अतिवृष्टि से अनेक गरीबों के ध्वस्त हुए आशियाने

अतिवृष्टि से अनेक गरीबों के ध्वस्त हुए आशियाने

👉ग्राम प्रधान घर घर जाकर ग्रामीणों को दे रहे हैं सांत्वना

जगम्मनपुर  (जालौन ) विकासखंड रामपुरा अंतर्गत ग्राम जगम्मनपुर में लगभग 7 दर्जन ग्रामीणों के कच्चे एवं पक्के मकान लगातार वर्षा के कारण जमींदोज हो गए , ग्राम प्रधान प्रत्येक पीडित के घर जाकर नुकसान का जायजा ले सरकारी आर्थिक मदद दिलाने का आश्वासन दे सांत्वना दे रहे हैं l इस आपदा में पिछले 10 दिनों से लगातार वर्षा के कारण ग्राम जगम्मनपुर में लगभग अस्सी पचासी मकान ध्वस्त हो गए जिसमें जनहानि होने से तो बच गई किंतु गरीब ग्रामीणों के आशियाने उजड़ गए और अनेक लोग खुले मैदान में प्लास्टिक या त्रिपाल लगाकर अथवा किसी के टीन शैड में शरण लेने को मजबूर हो रहे l इस आपदा में ग्राम प्रधान प्रज्ञादीप गौतम ने आज जगम्मनपुर गांव की गली-गली जाकर निरीक्षण करके रास्तों की व्यवस्था को समझा एवं लगातार हो रही वर्षा से क्षतिग्रस्त हुए अथवा जमींदोज हुए मकानों को देखकर हुए नुकसान का जायजा लिया तथा बर्षा पीड़ित परिवार को सहायता दिलाने का आश्वासन  दे उन्हें सांत्वना दी l ज्ञात हो कि इस वर्ष वर्षा ऋतु में जगम्मनपुर मैं लगभग 80-85 कच्चे और पक्के मकान जमींदोज हो गए हैं कुछ गिरे हुए मकानों का निरीक्षण तो लेखपाल ओम नारायण चतुर्वेदी द्वारा किया जा चुका है किंतु पूरी सूची ना बन पाने से कोई पीड़ित सहायता से वंचित न रह जाए इस मंशा से ग्राम प्रधान प्रज्ञादीप गौतम ने पूरे गांव का स्वयं निरीक्षण किया तथा रोजगार सेवक बृजेश कुमार को निर्देशित किया कि सभी वर्षा पीड़ितों की सूची बनाकर उनके फोटो लेकर प्रशासनिक अधिकारियों को अवगत कराया जाए ताकि कोई भी वर्षा पीड़ित सरकारी सहायता से वंचित न रह सके ।