अनाथ बच्चों के लिए भी की जाएं पढ़ने की व्यवस्था- अनीता

अनाथ बच्चों के लिए भी की जाएं पढ़ने की व्यवस्था- अनीता


– बाल अधिकारी संरक्षण की सदस्य ने निरीक्षण कर दिए निदेर्श
चित्रकूट ब्यूरो: उत्तर प्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य अनीता अग्रवाल ने बुधवार को जिला अस्पताल के पीडियाट्रिक वाडर्, पोषण पुनवार्स केंद्र, राजकीय संप्रेक्षण गृह व शिवरामपुर के कस्तूरबा गांधी विद्यालय एवं वनस्टॉप सेंटर का औचक निरीक्षण किया। इसके बाद उन्होंने लोक निमार्ण विभाग के निरीक्षण गृह में बाल संरक्षण से संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक भी की।
उन्होंने बाल संरक्षण गृह के निरीक्षण के दौरान बच्चों से खानपान आदि व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी की तथा उनमें 12 बच्चे ऐसे पाए गए, जिनके ऊपर केस कम है। इस पर बाल संरक्षण अधिकारी ग्रह किशोर को निदेर्श दिए कि इनके माता-पिता से संपकर् कर इन्हें रिहा कराने की व्यवस्था सुनिश्चित कराएं। जिला अस्पताल के निरीक्षण में सफाई अच्छी पाई गई, कस्तूरबा गांधी विद्यालय के निरीक्षण के दौरान बच्चों से पठन-पाठन, खानपान, ठहरने आदि सभी व्यवस्थाओं की जानकारी की। उन्होंने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निदेर्श दिए कि बच्चों को कोई समस्या न हो, सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त रहें तथा चाइल्डलाइन द्वारा जिन बच्चों की सूची दी गई है, उन्हें आश्रम पद्धति व कस्तूरबा विद्यालय में दाखिला कराकर शिक्षा ग्रहण कराई जाए तथा अनाथ बच्चों के भी पढ़ने लिखने की व्यवस्था कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि कन्या सुमंगला योजना से जनपद में काफी लोगों को लाभ मिल रहा है। यह प्रदेश के मुख्यमंत्री की महत्वाकांक्षी योजना है, इसमें अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित कराया जाए। वन स्टॉप सेंटर में जगह कम होने पर जिला प्रोबेशन अधिकारी रामबाबू विश्वकमार् ने बताया कि नया वन स्टॉप सेंटर का निमार्ण हो रहा है। उन्होंने अधिकारियों के साथ बैठक कर बच्चों के संरक्षण, संचालित विद्यालयों व श्रम विभाग में पंजीकृत बच्चों आदि के बारे में भी विस्तृत जानकारी की। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार में जनपद में काफी विकास कायर् हुए हैं, जिसमें बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे, सड़कों के निमार्ण, हर घर नल योजना, पयर्टन विकास आदि शामिल है।
इस मौके पर जिला कायर्क्रम अधिकारी बाल विकास मनोज कुमार, पुलिस क्षेत्राधिकारी मऊ सुबोध कुमार गौतम, श्रम प्रवतर्न अधिकारी दुष्यंत कुमार, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राजीव रंजन मिश्र, जिला सूचना अधिकारी सुरेंद्र कुमार, महिला कल्याण विभाग से मीनू सिंह सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।