अप्रैल फूल नहीं मनाना घर या बाहर एक फूल वाला पौधा लगाना है

अप्रैल फूल नहीं मनाना घर या बाहर एक फूल वाला पौधा लगाना है”

भारत पहले से ही बुद्धिमान था और है, यह परिचय हम सबको बताना है”

पावन महीने की शुरुआत आज से ही हुई थी मूर्खता दिवस नहीं मनाना है”

अपनी संस्कृति को पहचानो और अपनी सभ्यता को हम सबको मिलकर बचाना है”

सच्चे हिंदू और हिंदुस्तानी हो तो आज के दिन को नए साल की तरह मनाना है !!

 

समाज सेविका पर्यावरणविद एवं लेखिका
🌺 डॉ हर्ष प्रभा 🌺