अभिशप्त नीम के पेड़ से फांसी पर झूल फिर एक आत्महत्या

अभिशप्त नीम के पेड़ से फांसी पर झूल फिर एक आत्महत्या

जगम्मनपुर (जालौन ) अभिशप्त नीम के पेड़ पर फांसी लगाकर फिर एक किसान ने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली है।
रामपुरा थाना अंतर्गत ग्राम छौना (मानपुरा) में आज सोमवार की शाम एक किसान ने नीम के पेड़ के सहारे फांसी पर झूल कर आत्महत्या कर ली । बताया जाता है कि जसवीर सिंह उर्फ पप्पू उम्र लगभग 52 वर्ष पुत्र जयकरन सिंह सेंगर साधारण किसान है उसके पास एक पुत्र अभिषेक उम्र 16 वर्ष व अपनी पत्नी के छोटे से परिवार के गुजर बसर लायक खेती भी है। जसवीर सिंह यदा-कदा मदिरा का सेवन भी कर लिया करता था लेकिन उसके नशे से कभी किसी को कोई शिकायत नहीं थी । अपने सरल मृदुल व्यवहार के कारण वह अपने गांव छौना (मानपुरा) एवं आसपास के गांव में अच्छे व्यक्ति के रूप में जाना जाता था। आज सोमवार की शाम लगभग 5:30 बजे उसने गांव के पास राम कुमार गुप्ता के खेतों पर खड़े नीम के पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। खेतों पर पशु चरा कर वापस लौट रहे किसानों ने जब उसके शव को पेड़ के सहारे लटकता देखा तो उनके होश उड़ गए और उन्होंने घटना की सूचना मृतक के घर वालों को तथा रामपुरा थाना पुलिस को दी। सूचना पाकर ऊमरी चौकी इंचार्ज उप निरीक्षक जितेंद्र कुमार मय हमराही घटनास्थल पर पहुंचकर मृतक के शव को कब्जे में ले कार्यवाही प्रारंभ कर दी है।

अभिशप्त नीम का पेड़
चर्चा है कि राम कुमार गुप्ता निवासी छौना के खेत पर खड़ा नीम का पेड़ अभिशप्त हो चुका है । आज से लगभग 10 माह पूर्व इसी पेड़ की एक शाखा से अनूप गुप्ता उर्फ कल्लू पुत्र रामकुमार गुप्ता ने भी फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी, आज पुन: उसी नीम के पेड़ पर जसवीर सिंह के द्वारा आत्महत्या कर लेने से लोगों में उक्त बृक्ष को लेकर अलग-अलग प्रकार की चर्चा है । कुछ लोग इस नीम के बृक्ष को अभिशप्त कह रहे हैं।