आपदा में जन सेवा का अवसर खोजते ब्लाक प्रमुख अजीत

आपदा में जन सेवा का अवसर खोजते ब्लाक प्रमुख अजीत

जगम्मनपुर (जालौन ) जब दिल में जन सेवा करने का जज्बा हो और आपदा में सहायता के लिए हाथ बढ़ाने की दृढ़ इच्छाशक्ति हो तो आपको हातिमताई बनने से कोई नहीं रोक सकता l
उक्त उदाहरण ब्लाक प्रमुख रामपुरा अजीत सिंह सेंगर पर सटीक साबित होता हैं l अजीत सिंह सेंगर ब्लाक प्रमुख निर्वाचित होने के बाद राजनैतिक पथ के राही अवश्य हो गए हैं किंतु वह राजनीतिक व्यक्ति नहीं है , वह विशुद्ध रूप से उद्योगपति हैं l उनका पालन पोषण सुसंस्कारित परिवार में होने के कारण माननीय संवेदनाएं उनके हृदय में हिलोरें मारती हैं इसका ठीक-ठाक प्रमाण है कि विकासखंड रामपुरा का 50% भूभाग एवं आबादी भीषण बाढ़ की चपेट में है स्वयं ब्लॉक प्रमुख अजीत सिंह का नाम वेरा चारों ओर पानी से घिर जाने के कारण टापू बन गया है इसके बावजूद वह इस आपदा में जनसेवा का अवसर खोजते हुए वीडियो के माध्यम से अपने विकासखंड क्षेत्र के लोगों से नदी एवं वर्षा के पानी में जाने से रोकने का निवेदन कर रहे हैं तथा आवश्यकता पढ़ने पर सहायता के लिए फोन करने की अपील भी कर रहे हैं एवं आश्वासन दे रहे हैं की जरूरत वाले स्थान पर वह निश्चित रूप से यथाशीघ्र पहुंच जाएंगे l ब्लाक प्रमुख अजीत सिंह सेंगर ने अपने क्षेत्र के लोगों से निवेदन किया है कि वह नदी अथवा बाढ़ के पानी में प्रवेश न करें एवं पशुओं तथा बच्चों को भी जल प्रभावित क्षेत्र में जाने से रोकें है ताकि किसी प्रकार की अनहोनी या जन धन हानि होने से बचा जा सके l किसी जनप्रतिनिधि के द्वारा इस प्रकार की अपील एवं इस प्रकार का आश्वासन रामपुरा क्षेत्र के लिए अपने आप में एक अनूठा उदाहरण है l