किसान बिल को लेकर विरोध में रामपुरा में हुई सपा की बड़ी बैठक।।

किसान बिल को लेकर विरोध में रामपुरा में हुई सपा की बड़ी बैठक।।
                                                                                                                                                                                            रामपुरा:-केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों को लेकर विरोध अब भी बरकरार है। कानूनों को रद्द कराने पर अड़े किसान इस मुद्दे पर सरकार के साथ आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर चुके हैं। इसके लिए दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का आंदोलन आज 23वें दिन भी जारी है। किसानों ने सरकार से जल्द उनकी मांगें मानने की अपील की है। वहीं सरकार की तरफ से यह साफ कर दिया गया है कि कानून वापस नहीं होगा, लेकिन संशोधन संभव है।इसी को लेकर आज रामपुरा में सपाइयों द्वारा किसान विरोधी बिल को लेकर बैठक तिलक चंद्र अहिरवार पूर्व एम एल सी  तथा जिला पंचायत सदस्य दीपराज गुर्जर की अध्य्क्षता में सम्पन्न हुई जिसमें जिला पंचायत सदस्य दीपराज गुर्जर का कहना है कि ये बिल किसानों के हित में नही है तथा उन्होंने सपा के निर्माण कार्यो जैसे पुल का निर्माण तथा बसों का संचालन के बारे में बताया।इसी क्रम में तिलक चंद्र अहिरवार पूर्व एम एल सी द्वारा बताया गया सपा के राष्ट्रीय अध्य्क्ष माननीय अखिलेश यादव ने कहा की सरकार अगर किसान बिल वापस नही लेती तो धरना प्रदर्शन जारी रहेगा।दिल्ली ,पंजाब,हरयाणा, के किसान लगातार 23 वां दिन से दिल्ली की सड़कों को 5-5 साल के बच्चे, 80 साल के बुजुर्ग,आज 23 दिन में 22 लोग जान गवा चुके है।इसी बीच उन्हीने संविधान की धारा 19 1बी के बारे में बताया कि सरकार खिलाफ कानून लाये तो आप अपने अधिकारों के लिए रोड, रेल ,सड़क पर धरना प्रदर्शन कर सकते है जिसकी इज़ाज़त सुप्रीम कोर्ट ने भी दी है।उक्त कार्यक्रम में तिलक चंद्र अहिरवार,दीपराज गुर्जर, मानसिंह पाल, सुखवीर सिंह यादव, महेंद्र सभासद ,सुरजीत चौधरी ,हरि शंकर पाल,आदि सैकड़ो लोग मौजूद रहे।इस कार्यक्रम का संचालन तेजपाल यादव द्वारा किया गया।