स्वरचित ,🖊️🌹🌹🌹

🥰कोई एक दिवस को क्या
🌹प्रेम दिवस मनाए हम !
करके झगड़ा आओ जरा 💥
फिर से मुस्कुराए हम ।।😊😊

बनी रहे नोक झोंक ये 🎇🎇
❤️❤️प्यार मोहब्ब्त वाली
अरे दे डालो तुम मन ही मन
किसी और को दो तीन गाली 🤣।🤣🤣

आओ चाय साथ बनाए चलो
इलाइची अदरक वाली !
मेने तुम्हारी पसंद की ही,
मठरी पपड़ी भी बना ली ।।🥬🥬🥬

😍हर दिन तुमको ही तो
खाने की टेबल पर हम
प्यार से आवाज देते हैं🎉🎉
तुम्हें पता ही नही हम कब
तुम्हारे लिए प्याज़ काट लेते हैं 😜😜😜

जो रूठे हम कभी तुमसे ,
तो देखते राह तुम्हारी ही
अब मानने की होगी
प्रिय पतिदेव तुम्हारी बारी ही 😎😎😎

गलती हम करें तो भी क्या 😀😀😀
हक है ये हमारा तुम पर
माफ करने की होगी ही
हमेशा तुम्हारी ही बारी 🤣

ये हर दिन प्रेम दिवस ही तो हैं,
जो नारजगी में भी तुमको ही
जोर जोर से आवाज देते है 🤩🤩🤩🤩🤩🤩

कनिष्का के बापू 😜😜😜🥬🖊️🖊️🖊️🖊️

आशी प्रतिभा