गोरखपुर-बस्‍ती मंडल में खतरा बढ़ा, युवक के जनाजे में शामिल 20 लोगों की तलाश शुरू

0

गोरखपुर:-   गोरखपुर में कोरोना वायरस से एक युवक की मौत के बाद गोरखपुर और बस्‍ती मंडल में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है। युवक के जनाजे में बीस लोगों के शामिल होने की जानकारी मिलने से अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए। अधिकारी अब उक्‍त बीस लोगों की तलाश कर रहे हैं।

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में हुई थी मौत

बस्‍ती जिले के गांधीनगर क्षेत्र के तुरकहिया मोहल्ला निवासी हसनैन अली की सोमवार को गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। मंगलवार को पुलिस ने कोरोना के मद्देनजर एहतियातन पूरे गांधीनगर को ही सील कर दिया। कंपनीबाग, रोडवेज के अलावा जीआरएस इंटर कॉलेज के सामने भी इस ओर जोन वाले मार्ग बंद कर दिए गए। चारों ओर पुलिस का सख्त पहरा है। परिवार के सभी छह सदस्यों और एंबुलेंस चालक व उसके उसके सहयोगी को आइसोलेट कर दिया गया है। नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं।

परिवार के छह सदस्यों समेत आठ लोग आइसोलेट

रविवार को बस्ती से हसनैन को गोरखपुर मेडिकल कॉलेज लाया गया था। रात में ही इलाज के दौरान मौत हो गई। उसे कोरोना वार्ड में वेंटिलेटर पर रखा गया था। मौत के बाद नमूना जांच के लिए भेजा गया था। इलाज करने वाले चिकित्सकों व अन्य स्वास्थ्य कर्मियों को आइसोलेट कर दिया गया है। मामला संदिग्ध लगने पर गांधीनगर व तुरकहिया आला अफसर, स्वास्थ्य विभाग, नगर पालिका और पुलिस की टीमें पहुंचीं। सीएमओ की मौजूदगी में स्वास्थ्य टीम ने मृतक के पिता अकबर अली व परिवार के पांच अन्य सदस्यों साबिर अली, हसन अली, नूर फातिमा, आबिश अली, सैयद, एंबुलेंस से गोरखपुर ले जाने वाले चालक व सहायक को वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। एंबुलेंस भी खड़ी करा दी गई है।