चालक की हत्या कर 40 बाइकों से भरा ट्रक लूटने वाले दो शातिर बदमाश गिरफ्तार कुर्रा थाना पुलिस को मिली बड़ी सफलता

  1. चालक की हत्या कर 40 बाइकों से भरा ट्रक लूटने वाले दो शातिर बदमाश गिरफ्तार कुर्रा थाना पुलिस को मिली बड़ी सफलता

कुर्राथाना (मैनपुरी): गुरुग्राम से होंडा कंपनी की 40 बाइक लेकर कोलकाता जा रहे ट्रक को उसके क्लीनर ने ही अपने तीन साथियों की मदद से लूट लिया। चालक की गला दबाकर हत्या करने के बाद शव को तालाब में फेंक दिया और ट्रक को अपने यहां लाकर खड़ा कर दिया। लावारिस ट्रक बरामदगी के बाद पुलिस ने वारदात का पर्दाफाश करते हुए क्लीनर और उसके एक साथी को गिरफ्तार कर लिया जबकि दो साथी फरार हैं।
एसपी अशोक कुमार राय ने बताया कि शुक्रवार को थाना कुर्रा क्षेत्र में लावारिस ट्रक खड़ा था। इसमें 40 बाइक थीं। इसकी जानकारी होने पर कासगंज जिले के सोरों थाना क्षेत्र के गांव सियपुर निवासी राजकुमार नाम का एक युवक पुलिस के पास आया। उसने ट्रक के बारे में जानकारी दी। बताया कि उनका भाई सतेंद्र सिंह ट्रक पर था। वो 20 अगस्त को गुरुग्राम से 40 बाइक लेकर कोलकाता के लिए लेकर चला था। ट्रक पर उनके साथ क्लीनर जयराम (गांव कुदैया, कुर्रा, मैनपुरी), करन सिंह व अजीत राठौर (निवासीगण गढ़ी राठौर, खंदौली, आगरा) भी थे। सतेंद्र सिंह ट्रक को लेकर अपने गांव पहुंचे और रक्षाबंधन तक रुकने की बात कही। इस पर जयराम और करन सिंह अपने-अपने घर के लिए चले गए। 22 अगस्त को जयराम ने फोन किया तो सतेंद्र ने उसे नवीगंज, मैनपुरी में मिलने को कहा। अगले दिन स्वजन ने संपर्क किया तो सतेंद्र सिंह का मोबाइल बंद था। इस पर सतेंद्र की तलाश शुरू कर दी। पुलिस ने राजकुमार की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी।
घटना की जांच में कुर्रा पुलिस के अलावा सर्विलांस टीम को भी जुटाया गया। इस दौरान पता चला कि कानपुर तक ट्रक का जीपीएस चालू था। बाद में उसे बंद कर दिया गया था।
एसएसपी ने बताया कि पुलिस ने क्लीनर जयराम व अजीत राठौर को उनके गांव से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में दोनों ने चालक की हत्या कर ट्रक लूटने की जानकारी दी। दोनों ने बताया कि उनके साथ गांव के करन सिंह और जनवेद भी था। नवीगंज में चारों को ट्रक में बैठाकर सतेंद्र सिंह कानपुर पहुंच गए। वहां चारों ने सतेंद्र का गला दबा हत्या कर दी और शव को सीट के नीचे छिपा दिया। इसके बाद लौटकर अपने गांव आए और एक तालाब में शव को फेंक दिया। ट्रक को गांव के पास ही खड़ा कर दिया। आरोपितों ने बताया कि ट्रक को कहीं और ले जाकर बाइक बेचने की योजना थी। दोनों आरोपितों की निशानदेही पर चालक सतेंद्र सिंह का शव तालाब से बरामद कर लिया। फरार आरोपितों की तलाश की जा रही है। जीपीएस ने कानपुर तक दी लोकेशन
ट्रक में जीपीएस लगा था। इसके तहत ट्रक की लोकेशन कानपुर तक मिली है। चालक की हत्या करने के बाद आरोपितों ने जीपीएस को बंद कर दिया था।