डीएम ने मतदान का प्रतिशत बढ़ाने के लिए अधीनस्थ अधिकारियों से स्वयं सहायता समूह तथा समाज के अन्य संगठनों की सहभागिता बढ़ाने के निर्देश दिए

उरई(जालौन)। जनपद में मतदान प्रतिशत को बढ़ाने की कवायत को लेकर जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी राजेश कुमार पाण्डेय गंभीर सभी संबंधित अधिकारियों के साथ कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक कर स्वयं सहायता समूह एवं समाज के अन्य संगठनों की सहभागिता बढ़ाए जाने पर दिया जोर, स्वीप योजना के अंतर्गत मतदाता साक्षरता गतिविधियों के संचालन करने के निर्देश दिए।
उन्होंने आगामी राष्ट्रीय मतदाता दिवस के आयोजन, इलेक्ट्रोल लिटरेसी क्लब द्वारा संचालित गतिविधियों, स्वीप के अंतर्गत संचालित गतिविधियों, प्रचार प्रसार से संबंधित योजना के क्रियान्वयन पर संबंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए। जनपद के मुख्य आयोजन स्थल पर विभिन्न प्रतियोगिताएं जैसे रंगोली, मेहंदी, पोस्टर, चित्रकला प्रतियोगिता नुक्कड़ नाटक, गीत वाद, भाषण प्रतियोगिता, मतदीप दीप जलाओ मतदान बढ़ाओ, टेम्पो/ई रिक्शा मतदाता जागरूकता रैली, मतदाता जागरूकता कोर्नर समाचार पत्रों में प्रकाशित एक नया स्लोगन प्रतिदिन, स्टांप मोहर भूल मत जाना मतदान अवश्य करना, मतदाता जागरूकता होर्डिंग अभियान, महिला मतदाता जागरूकता अभियान, मानव श्रृंखला चैन आदि के साथ सेल्फी प्वाइंट विशेष रूप से बनाने का भी निर्देश दिए। सभी सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से मैं हूं ना का अधिक से अधिक प्रचार प्रसार किया जाए। उन्होंने कहा कि टाउन हॉल पर 51 हजार मतदीप जलाए जाएंगे, इसी प्रकार सभी तहसीलों में 11-11 हजार दीप जलाए जाएंगे। मतदीप जलाओ और मतदान बढ़ाओ, एक मत द्वीप राष्ट्र के निर्माण के नाम। उन्होंने कहा कि पुनरीक्षण 2024 में 18 वर्ष के पहली बार बने नए मतदाताओं को, दिव्यांगजन, थर्ड जेंडर तथा 80 से अधिक उम्र वाले मतदाताओं को जनपद स्तर पर बैच लगाकर तथा युवा मतदाताओं को मतदाता फोटो पहचान पत्र देकर सम्मानित किया जाए। जनपद स्तरीय नामित आइकॉन के माध्यम से मतदाताओं के लिए मैसेज प्रसारित कराया जाए। स्कूल व कॉलेज व अन्य शैक्षणिक संस्थानों में विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताएं आयोजित कर विजेताओं को सम्मानित किया जाए, जनपद स्तर पर बैनर होर्डिंग पोस्टर पम्पलेट आदि के माध्यम से व्यापक प्रचार प्रचार कराया जाए। उन्होंने कहा कि जनपद में बूथवार डाटा एनालिसिस करते हुए मतदान प्रतिशत से कम मतदान प्रतिशत वाले बूथों में कारण का पता करके टारगेट स्वीप एक्शन प्लान कर स्वीप कार्यक्रम कराया जाए।

स्वीप कार्यक्रम एवं मतदाता सूची पुनरीक्षण अभियान अंतिम चरण पर है, इसलिए सभी उप जिलाधिकारी/निर्वाचन रजिस्ट्रीकरण अधिकारी है वह परिवार के सभी सदस्यों का नाम एक ही स्थान पर होने सभी विशिष्ट जनों का नाम मतदाता सूची में नाम अंकित होने एवं कंट्रोल टेबल जिसमें भाग संख्या मोहल्ला आदि का विवरण शुद्ध रहे को देख ले और सत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करें। युवाओं, महिलाओं, दिव्यांगजनों एवं थर्ड जेंडर के लिए आधिकारिक भागीदारी सुनिश्चित करनी है। इसलिए 7 जनवरी तक उनके नाम मतदाता सूची में सम्मिलित करना सुनिश्चित किया जाए. इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व संजय कुमार, नगर मजिस्ट्रेट दिनेश कुमार, जिला विद्यालय निरीक्षक राजकुमार पंडित, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी चंद्र प्रकाश, जिला प्रोवेशन अधिकारी अमरेंद्र कुमार पौत्स्यायन जिला कार्यक्रम अधिकारी इफ्तिखार अहमद आदि सहित मौजूद रहे।