नगर के प्राचीन मंदिर के बाहर भक्त करते है पूजा,माह के प्रत्येक सोमवार को होते भजन कीर्तन।।

रामपुरा (जालौन):-नगर पंचयात रामपुरा में रियासत कालीन विराजमान नरसिंह भगवान जी का मन्दिर स्थित है।जो लगभग 500 वर्ष पुराना व प्राचीन एवं ऐतहासिक है जिससे नगर एवम क्षेत्रीय लोगों की धार्मिक भावनाये जुड़ी हुई हैं। सभी लोग सैकड़ो वर्षों से पूजा पाठ करते आ रहे थे लेकिन वर्ष 2013 में नरसिंह भगवान की तत्कालीन संरक्षिका उमा देवी की हत्या के बाद उक्त प्राचीन नरसिंह भगवान का मंदिर प्रशासन द्वारा बंद करवा दिया गया था।जिससे जिससे श्रद्धालु मंदिर की चैखट पर पिछले कई वर्षो से पूजा पाठ करते आ रहे है।इस स्थिति को लगभग 10 वर्ष हो चुके है।नगर व क्षेत्र के भक्तगणों द्वारा माह के प्रत्येक सोमवार को मंदिर के बाहर हवन पूजन कर भजन कीर्तन का आयोजन किया जाता है।नगरवासी इंद्रभान सिंह, रामलला,श्यामकिशोर,सीताशरण,चंद्रभूषण,मनोज सोनी,दीपक ,श्याम किशोर,सतीश विश्वकर्मा,रामकुमार पाठक,अजीत कुमार,अरविंद कुमार ने बताया की मंदिर प्रशासन की देखरेख में खुलवाने के लिए उपजिलाधिकारी माधौगढ़ को प्रार्थना पत्र दिया गया था लेकिन अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई।