निर्वाचन प्रक्रिया में किसी भी प्रकार की ढिलाई नहीं होना चाहिए – डीएम

0

चित्रकूट – जिला निर्वाचन अधिकारी/ सहायक रिटर्निंग ऑफिसर इलाहाबाद झांसी खंड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र/जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय की अध्यक्षता में उत्तर प्रदेश विधान परिषद की द्विवार्षिक स्नातक निर्वाचन 2020 इलाहाबाद झांसी खंड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत निर्वाचन संबंधित विविध कार्यवाहियों को सकुशल संपन्न कराने हेतु नियुक्त किए गए प्रभारी अधिकारियों के साथ एक बैठक का आयोजन कलेक्ट्रेट सभागार में किया गया ।

जिलाधिकारी ने प्रभारी अधिकारी कार्मिक, प्रभारी अधिकारी यातायात, प्रभारी अधिकारी स्टेशनरी, प्रभारी अधिकारी मत पेटिका व्यवस्था, प्रभारी अधिकारी मतदाता सूची रूट चार्ट की तैयारी, प्रभारी अधिकारी सामान्य प्रशिक्षण, प्रभारी अधिकारी मतपत्र, प्रभारी अधिकारी दूरसंचार, प्रभारी अधिकारी शिकायत, निर्वाचन नियंत्रण कक्ष कंट्रोल रूम, प्रभारी अधिकारी व्यय लेखा, प्रभारी अधिकारी आदर्श आचार संहिता, प्रभारी अधिकारी वीडियोग्राफी डिजिटल कैमरा, प्रभारी अधिकारी माननीय प्रेक्षक गण, प्रभारी अधिकारी मीडिया सेल, प्रभारी अधिकारी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य तथा प्रभारी अधिकारी शील्ड मत पेटिकाओ को रिटर्निंग ऑफिसर को भेजने आदि व्यवस्थाओं से संबंधित प्रभारी अधिकारियों व सहायक प्रभारी अधिकारियों से व्यवस्थाओं के संबंध में विस्तृत जानकारी की।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि निर्वाचन में लगे हुए अधिकारी कर्मचारी निर्वाचन प्रक्रिया को सकुशल संपन्न कराने हेतु सभी तैयारियां पूर्ण कर लें कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया में किसी भी प्रकार की ढिलाई नहीं होना चाहिए भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देश दिए गए हैं उसका अनुपालन अच्छी तरह से कर लिया जाए कहां की महामारी से सुरक्षा के लिए विसंक्रमण, स्वच्छता प्रबंधन और निवारण पर मानक के अनुसार सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें । प्रभारी अधिकारी मतपेटिकाअपर उप जिला अधिकारी को निर्देश दिए कि मतपेटियों को अच्छी तरह से चेक करके रखा जाए। प्रभारी अधिकारी सामान्य प्रशिक्षण उप निदेशक कृषि टी पी शाही को निर्देश दिए कि मतदान कार्मिकों को अच्छी तरह से प्रशिक्षण दिलाएं तथा वीडियो ग्राफरो को भी प्रशिक्षण दिया जाए मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि सभी मतदान स्थल पर सैनिटाइजर आदि सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाए प्रॉपर तरीके से टीम गठित कर कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाए तथा प्रशिक्षण के दौरान सभी मतदान कार्मिकों का आरटी पीसीआर टेस्ट अवश्य कराया जाए । जिलाधिकारी ने सभी जोनल सेक्टर मजिस्ट्रेट ओं को निर्देश दिए कि अपने-अपने मतदान स्थलों का भ्रमण कर देख लें तथा सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराने अगर कोई समस्या है तो उसे तत्काल व्यवस्थित कराएं उन्होंने कहा कि जिला विद्यालय निरीक्षक विद्यालयों का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें तथा खंड विकास अधिकारी अपने कार्यालयों में और नगर पंचायत राजापुर में अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत द्वारा सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर लें।

अपर जिलाधिकारी जी पी सिंह ने बताया कि निर्वाचन संबंधी समस्त प्रकार की सूचनाएं आदान प्रदान करने आदि के लिए कंट्रोल रूम कलेक्ट्रेट में स्थापित किया गया है जिसका नंबर 051 98- 236 414 है इस पर भी सुझाव व सूचना दर्ज करा सकते हैं। जनपद में कुल 7 मतदान केंद्र व दस मतदेस्थल बनाए गए हैं जनपद में कुल मतदाता 60 56 हैं। कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी दिशा निर्देशों के क्रम में जनपद चित्रकूट की सीमा में तथा सीमा से सटे जनपदों की पांच किलोमीटर तक मतदान दिवस 1 दिसंबर 2020 को मतदान समाप्ति के 48 घंटे पूर्व 29 नवंबर 2020 के सायं काल 6 बजे से मतदान समाप्ति तक शराब की बिक्री को प्रतिबंधित किया गया है जिसमें जनपद चित्रकूट की सभी देसी शराब, बीयर तथा अंग्रेजी शराब की दुकान पूर्णतया बंद रहेंगी।इसी प्रकार निर्वाचन में मतदान करने हेतु जनपद चित्रकूट के सभी कर्मचारी जो विश्वविद्यालय स्नातक हैं और जो स्नातक निर्वाचन क्षेत्रों से होने वाले राज्य विधान परिषद के निर्वाचन हेतु बोनाफाइड मतदाता हैं को मताधिकार के प्रयोग हेतु मतदान दिवस 1 दिसंबर 2020 को विशेष आकस्मिक अवकाश घोषित किया गया है।

इसके साथ ही स्नातक निर्वाचन क्षेत्र में मतदान करने के लिए मतदाता को अपनी फोटो पहचान पत्र ईपिकदिखाना होगा किसी मतदाता द्वारा फोटो पहचान पत्र प्रस्तुत नहीं किया जाता है तो वह आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, भारती पासपोर्ट, राज्य व केंद्र सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों स्थानीय निकाय या अन्य निजी औद्योगिक घरानों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किए गए सेवा पहचान पत्र, सांसदों, विधायकों, विधान परिषद सदस्यों को जारी किए गए आधिकारिक पहचान पत्र, शैक्षिक संस्थाओंजिनमें संबंधित शिक्षक स्नातक निर्वाचन क्षेत्र का निर्वाचक नियोजित हो द्वारा जारी सेवा पहचान पत्र, विश्वविद्यालय द्वारा जारी उपाधि डिप्लोमा का प्रमाण पत्र मूल रूप में तथा सक्षम अधिकारी द्वारा जारी दिव्यांगता संबंधी प्रमाण पत्र मूल रूप में प्रस्तुत कर सकते हैं।

बैठक में उप जिलाधिकारी कर्वी राम प्रकाश, अपर उपजिलाधिकारी राजबहादुर, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, परियोजना निदेशक अनय कुमार मिश्रा, जिला पंचायत राज अधिकारी संजय कुमार पांडेय, उप निदेशक कृषि टी पी शाही सहित संबंधित प्रभारी अधिकारी व सहायक प्रभारी अधिकारी मौजूद रहे।