पुलिस अधीक्षक ने मामले का संज्ञान लेते हुए पत्रकार को दिलाया न्याय।।

उरई(जालौन)। पट्रोल पम्प पर घाततौली की खबर प्रकाशित करने पर पेट्रोल पम्प मालिक ने पत्रकार को बहाने से पम्प पर बुलाकर अपने गुर्गों के साथ मिलकर मारपीट की मारपीट में पत्रकार बुरी तरह घायल हो गया । पेट्रोल पम्प मालिक ने पत्रकार का वीडियो भी बनाया जो कि सोशल मीडिया पर वायरल भी कर दिया गया जिसमे पत्रकार को गलत दीखाने की कोशिश की गई है। जबकि गलत तो खुद पेट्रोल पम्प मालिक है क्योंकि वीडियो में दिखने वाला लड़का इतना कमजोर है कि उसे एक आदमी ही पकड़ कर रख सकता है । जबकि वीडियो में उसको कई लोग गैंग बनाकर मार रहे है । तो देखने से तो पेट्रोल पम्प मालिक गैंगेस्टर लग रहा । लेकिन इनके इतने हौसले बुलन्द किसने किये की इस पेट्रोल पम्प मालिक ने कानून को ही तार तार कर दिया । क्योंकि सच्चाई को एक आम इन्सान भी लिख कर सोशल मीडिया पर डाल सकता है जिसकी इजाजत देश का संविधान भारत के नागरिकों को देता है। लेकिन पत्रकार का टैग लगा होने के बाद पम्प मालिक ने गैंग के साथ उस लड़के की मारपीट की है ये बहुत ही दैनीय है । जबकि अगर लड़के ने कोई गलती की थी तो उसकी सूचना पुलिस को दी जा सकती थी । क्योंकि जिले के पुलिस अधीक्षक की चर्चाएं जनपद में इस प्रकार है कि इनके कार्यकाल में ना कोई गुनाहगार बच पाया है ना ही बच पायेगा । लेकिन सूत्रों की माने तो ये पम्प मालिक पुलिस अधीक्षक से बड़ा अपने क्षेत्र के इंस्पेक्टर को मानते है । इस लिए इन्होंने पुलिस अधीक्षक के न्याय की परवाह ना करते हुए । उस लड़के के साथ मारपीट की जो कि सरासर गैर कानूनी है । क्योंकि अगर उसने खबर गलत लिखी और आप सही थे तो पहली बात तो आपको किस बात का डर आप मुकदमा कर सकते थे। जिसका न्याय न्यायालय में हो जाता लेकिन शायद इनको न्यायालय पर यकीन नही था या तो ये शत प्रतिशत गलत थे । क्योंकि गलत होने पर ही व्यक्ति उग्र होता है। और जो क्रिमनल प्रवर्ती का होता है वो पहले ही मारपीट के लिए तैयार रहता है जिस तरह यह लोग पहले से घात लगाए बैठे थे । जिन लोगों ने उस लड़के की जिंदगी बर्बाद करने की प्लानिंग पहले से ही कर रखी थी क्योंकि उस लड़के ने इनकी सच्चाई जग जाहिर की थी । लेकिन सत्य की जीत होती है। इस मामले की जानकारी जैसे ही जालौन के पुलिस अधीक्षक डॉ ईरज राजा को हुई तो उन्होंने मामले का संज्ञान लेते हुए पम्प मालिक का प्लान विफल करते हुए । मारपीट करने वालों को सलाखों के पीछे पहुचकर उस पीड़ित पत्रकार को न्याय दिया जो कि कानून के दम पर ही सच उजागर करने का काम करता है । वही पुलिसअधीक्षक ने बताया कि मामला गोहन थाना क्षेत्र का है जहाँ थाने में पम्प मालिक के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्यवाही की जा रही है ।