भीषण बाढ़ से पंचनद क्षेत्र में दहशत

भीषण बाढ़ से पंचनद क्षेत्र में दहशत

रामपुरा जगम्मनपुर क्षेत्र के दर्जनों सड़क मार्ग जलमग्न, यातायात ठप्प

 

जगम्मनपुर (जालौन ) विकासखंड रामपुरा के पंचनद क्षेत्र की नदियों में बाढ़ के रौद्र रूप के कारण ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है l अनेकों सड़क मार्ग अवरुद्ध हो गए हैं l प्रशासनिक अमला हर स्थिति से निपटने को तैयार है l
पंचनद क्षेत्र की 5 नदियों में चंबल एवं सिंध नदी रौद्र रूप धारण कर महाप्रलय मचाने को प्रबल वेग से बह रही है l पंचनद के इलाके में सिंध नदी के लगातार बढ़ते जल स्तर से रामपुरा क्षेत्र के ग्राम जायघा, विलौड, जखेता, हुकमपुरा ,सिद्धपुरा ,मडैयां अंगदेला,मिर्जापुरा, निनावली जागीर, नरौल , कूसेपूरा , बेड़ , मोहब्बतपुरा , भिटौरा ,कंजौसा आदि गांव की गलियों में बाढ़ का पानी हिलोरे मारने लगा है l इन गांव को जाने वाले रास्तों में पानी भरने से इनका सड़क संपर्क भी कट गया है l जगम्मनपुर से कंजौसा मार्ग पर 6 फुट ऊपर पानी बह रहा है , रामपुरा से नदिया पार जाने वाले मार्ग पर रामपुरा में आईटीआई के सामने सड़क पर कई फुट ऊंचा पानी भरा होने से संपूर्ण आवागमन ठप हो गया l जगम्मनपुर से ग्राम महटौली, बेरा , पतराही जाने वाले मार्ग में सड़क पर 20 फुट ऊंचा पानी भरने से उक्त गांवों का संपर्क कट गया है l
उप जिलाधिकारी माधौगढ़ शालिग्राम, तहसीलदार प्रेम नारायण प्रजापत , एसएचओ रामपुरा इंस्पेक्टर जेपी पाल संपूर्ण स्थिति पर लगातार निगाह बनाए हुए हैं l प्रशासनिक अमला निरंतर बाढ़ प्रभावित इलाके का सघन दौरा करके क्षेत्रीय लोगों से सलाह मशवरा करके भविष्य की योजनाएं बनाने में जुटा है l
*ग्रामीणों में भय*
पंचनद क्षेत्र के ग्रामीण गत 2 वर्ष पूर्व आयी भीषण बाढ़ से हुई तबाही का मंजर याद करके कांप उठते हैं वह इस बार भयभीत हैं कि यदि पुनः 2019 जैसी बाढ़ आयी तो अबकी बार हुए नुकसान को बर्दाश्त कर पाना कतई संभव नहीं होगा l