विधिक साक्षरता एव जागरूक कार्यक्रम का किया गया आयोजन

विधिक साक्षरता एव जागरूक कार्यक्रम का किया गया आयोजन

ईंटों (जालौन)- माधौगढ तहसील क्षेत्र के ग्राम रुपापुर में विधिक साक्षरता एव जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन तहसीलदार प्रेमनारायण की अध्यक्षता में किया गया जिसके अंतर्गत सभी ग्रामीणों को मुख्यमंत्री वाल सेवा योजना एव दैवीय आपदा कोविड 19 वेक्सिनेशन एव सरकार द्वारा चलायी जा रही कल्याण कारी योजनाओं के बारे में जागरूक किया गया
विधिक साक्षरता का मुख्य उद्देश्य मुख्यमंत्री वाल सेवा योजना,दैवीय आपदा,कानून की जानकारी देना,सरकार द्वारा चलायी जा रही कल्याणकारी योजनाओं को जन जन तक पहुचाना है तहसीलदार प्रेमनारायण ने ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस शिविर का आयोजन माननीय उच्च न्यायालय के आदेश पर 1987 से लागू की गई इसके अंतर्गत विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम, 1987 की व्यवस्था के अनुसार विधिक सेवा कार्यक्रम के अंतर्गत न केवल कमजोर व्यक्तियों को विधिक सेवा उपलब्ध कराया जाना शामिल है, बल्कि भारत के सुदूर एवं ग्रामीण अंचलों में कैम्प लगाकर आम जनता को विभिन्न विधिक प्राविधानों से अवगत कराना और बताया कि यदि की बच्चे के माता पिता की मृत्यु कोविड-19 हो गयी है तो उस बच्चे को माननीय मुख्यमंत्री वाल सेवा योजना द्वारा चार हजार रुपये महीने अनुदान प्रदान किया जाएगा इस मौके पर
प्रधान समर सिंह व पंचायत मित्र राजेश ओझा नरेंद्र सिंह कमलेश कुमार आदि ग्रामीण उपस्थित रहे!