श्रीराम जैसा बनने के लिए सभी करें प्रयास- जेपी सिंह

– श्रीराम वन मार्ग यात्रा के आगमन पर किया जिले का दौरा

चित्रकूट ब्यूरो: सेना की नौकरी के बाद रेलवे अधिकारी के रूप में काम कर रिटायडर् हुए कैप्टन जेपी सिंह का देशप्रेम व समाज सेवा का भाव ऐसा है कि आज भी वह देश को एक भाव में बांधने के काम में व्यस्त हंै। श्रीराम वनमागर् भारत एक यात्रा का उददेश्य लेकर अयोध्या से शुरु यात्रा चित्रकूट पहुंची और इसका विराम रामेश्वर में होगा। चित्रकूट प्रवास के दौरान उन्होंने देश के वतर्मान हालात पर अपनी चिंता जाहिर की। उनका मानना है कि आज की राजनीति में दिखावा सेवा का है, लेकिन स्वाथर् सवर्था है। बड़े पदों पर बैठे राजनैतिज्ञ नैतिकता की दुहाई देकर वही काम अपने ऊपर अमल नहीं करते। धमर् का राजनीति में दुरूप्रयोग को लेकर वह व्यथित दिखे। श्रीराम वनमागर् यात्रा में चित्रकूट के राजापुर स्थित मानस मंदिर और गोस्वामी तुलसीदास की हस्तलिखित रामचरित मानस के दशर्न कर महषिर् वाल्मिीकि आश्रम पहुंचे। चित्रकूट दशर्न के बाद जिला मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि आज की राजनीति में धमर् का सही रूप में प्रयोग न होकर सत्ता लोलुपतावश हो रहा है। श्रीरामवनगमन मागर् की कायर् स्थिति फिलहाल उन्हें तो समझ में नहीं आई। संपूणर् जगत को एकसूत्र में बांधने वाले भगवान श्रीराम की ही संस्कृति से जगकल्याण है। रामायण ही हमारे देश का संविधान है। राम जैसा ही सबको होने का प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कमर् को ही धमर् समझा और धमर् का दुरूप्रयोग नहीं किया। आज की राजनीति में जो हो रहा है, वह दुभार्ग्यपूणर् है तथा इसमें बदलाव होना ही चाहिए। इसके लिए कुछ समय लग सकता है, लेकिन इसका रास्ता खुद ब खुद बन जाएगा। चित्रकूट से सतना के सारंगपुर आश्रम होते हुए मैहर जबलपुर व नागपुर से होते हुए रामेश्वर की ओर कुल लगभग ९००० किमी की यात्रा के लिए रवाना हुए। गौरतलब है कि पटना बिहार निवासी जेपी सिंह ने अपनी प्रतिभा के दम पर भारतीय सेना, प्रशासनिक सेवा व न्यायपालिका के उच्च पदों पर चालिस साल तक काम किया। उन्हें रेल विभाग में यात्री सुविधा व विभागीय आय बढ़ाने में अच्छा योगदान दिया। जिससे उन्हें रेलवे के सवोर्च्च पुरस्कार नेशनल अवाडर् फॉर एक्सीलेंस इन वकर् मिल चुका है।

#चित्रकूट #जालौन #आन्या_एक्सप्रेस #बुन्देलखण्ड_दस्तक #ताजा_खबरें #न्यूज_उपडेट #उरई #झांसी #कानपुर #महोबा #हमीरपुर #डैली_उपडेट #ताजा_खबर