हस्ता गांव में सरकारी जमीन पर दबंगों द्वारा किया गया अवैध कब्जा

हस्ता गांव में सरकारी जमीन पर दबंगों द्वारा किया गया अवैध कब्जा

 

 

चित्रकूट/राजापुर – जहां एक ओर सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों के अनुपालन हेतु उत्तर प्रदेश सरकार एंटी भू माफिया का गठन करके सरकारी भूमि को मुक्त कराने का ढिंढोरा पीट रही है वही ग्राम पंचायत हस्ता के कुछ लोगों द्वारा चकरोड में अवैध कब्जा करके मकान निर्माण करने की साजिश रच रहे हैं।
बताते चलें कि ग्राम पंचायत हस्ता के प्रधान चंद्रभान त्रिपाठी ने बताया कि मेरे द्वारा उपजिलाधिकारी व तहसीलदार राजापुर को कई बार अवैध अतिक्रमण की शिकायत की गयी है लेकिन आज तक इस अवैध कब्जे पर कोई कानूनी कार्यवाही व 115c की नोटिस नहीं निर्गत की गई है त्रिपाठी ने बताया कि धर्मराज पुत्र धनिया कमलेश, जयप्रकाश ,ओम प्रकाश पुत्रगण धर्मराज, रामरूप पुत्र जगमोहन, लोकनाथ पुत्र बुदुन के द्वारा मत्स्य पालन हेतु तालाब का आवंटन तहसील के माध्यम से लिया था जिसमें उपरोक्त लोगों द्वारा फर्जी झूठी शिकायत की जाती है कि प्रधान के माध्यम से तालाब से मछली मरवाई जाती हैं जबकि यह शिकायत पूर्णरूपेण फर्जी व मनगढ़ंत है । इसी तालाब के माध्यम से इन लोगों के द्वारा सरकारी जमीन चकरोड में अवैध जबरन कब्जा किया जा रहा है मुख्य नहर से गांव को जाने वाली सड़क के पास इन लोगों द्वारा झोपड़ी डालकर स्थाई निर्माण की साजिश रची जा रही है तथा कुछ लोगों ने सरकारी जमीन पर स्वच्छ शौचालय का भी निर्माण जबरदस्ती करा लिया है उधर तहसीलदार प्रमेश श्रीवास्तव ने बताया कि क्षेत्रीय लेखपाल अवधेश द्विवेदी को भेजकर उक्त जमीन की पैमाइश कराने के बाद उपरोक्त लोगों को मना किया गया था लेकिन जबरदस्ती छानी छप्पर डालकर अवैध कब्जे की रूपरेखा बना रहे हैं लेखपाल की रिपोर्ट आख्या के बाद पुलिस बल के साथ उस छानी छप्परों को सरकारी जमीन से हटाने की कार्यवाही की जाएगी तथा उत्तर प्रदेश राज्य राजस्व संहिता की धारा 115 सी के अंतर्गत उपरोक्त लोगों को नोटिस भी जारी की जाएगी तथा अवैध कब्जे करने वाले लोगों को अर्थदंड का भी प्रावधान किया जाएगा।

*अन्नू मिश्रा – ब्यूरो चीफ*
*आन्या एक्सप्रेस चित्रकूट*