आनलाइन ठगी के शिकार पीड़ितो के कुल 4 लाख 57 हजार 800 रू0 साइबर सेल चित्रकूट द्वारा उनके बैंक खातों में कराये वापस

0
45

आनलाइन ठगी के शिकार पीड़ितो के कुल 4 लाख 57 हजार 800 रू0 साइबर सेल चित्रकूट द्वारा उनके बैंक खातों में कराये वापस

अन्नू मिश्रा ब्यूरोचीफ (चित्रकूट)

चित्रकूट – वर्तमान में बढ़ते साइबर अपराध को रोकने व आमजनमानस को इससे राहत दिलाने के उद्देश्य के तहत चलाये जा रहे अभियान के क्रम में पुलिस अधीक्षक जनपद चित्रकूट  धवल जायसवाल  के कुशल निर्देशन में अपर पुलिस अधीक्षक चित्रकूट शैलेन्द्र कुमार राय के पर्यवेक्षण में क्षेत्राधिकारी क्राइम हर्ष पाण्डेय के मार्गदर्शन में साइबर सेल जनपद चित्रकूट की टीम द्वारा लगातार सार्थक प्रयास करते हुये साइबर अपराध के  पीड़ितों के कुल 04,57,800 रूपये अथक परिश्रम कर उनके खातों में वापस कराये गये ।
(1).दिनांक 11.10.2021 को ही आवेदिका अंकिता सिंह निवासी कस्बा व थाना राजापुर जनपद चित्रकूट द्वारा शिकायत की गया कि दिनांक 11.10.2021 को मोबाइल पर लिंक पर क्लिक करने के बाद किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उनके बैंक खाता से कुल 85,799 रूपये निकाल लिये गये, जिसके सम्बन्ध में उपरोक्त आवेदिका द्वारा तत्काल पुलिस अधीक्षक चित्रकूट के समक्ष प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया, जिसके क्रम में साइबर क्राइम सेल द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए खाते का स्टेटमेंट प्राप्त कर सम्बन्धित बैंकों व कम्पनियों से पत्राचार कर प्रभावी कार्यवाही करते हुए कुल 34,000 रूपये आवेदक उपरोक्त के बैंक खातों में वापस कराये गये ।
(2) दिनांक 22.01.2022 को आवेदक दिनेश कुमार  शुक्ला निवासी कस्बा शिवरामपुर थाना कोतवाली कर्वी जनपद चित्रकूट द्वारा शिकायत किया गया कि दिनांक 22.01.2022 को अज्ञात व्यक्ति द्वारा ओटीपी लेकर उनके  खाते से 03,38,000 रुपये निकाल लिये गये, जिसके सम्बन्ध में आवेदक द्वारा तत्काल पुलिस अधीक्षक चित्रकूट के समक्ष प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया, जिसके क्रम में साइबर सेल द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए खाते का स्टेटमेंट प्राप्त कर सम्बन्धित बैंक एवं कम्पनियों से पत्राचार करते हुए पूर्ण साक्ष्य प्रदान कर फ्रॉड किये गये रूपयो में से समस्त 03,38,000 रूपये आवेदक उपरोक्त के बैंक खाते में वापस कराये गये ।
(3) दिनांक 02.02.2022 को ही आवेदक उधम सिंह निवासी बनाड़ी थाना कोतवाली कर्वी जनपद चित्रकूट द्वारा शिकायत की गया कि दिनांक 01.02.2022 को मोबाइल पर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा कॉल करके कैश बैक का लालच देकर उनके फोनपे की यूपीआई पर कुछ 21,600 रुपये ट्रांसफर करा लिया गया, जिसके सम्बन्ध में उपरोक्त आवेदक द्वारा तत्काल पुलिस अधीक्षक चित्रकूट के समक्ष प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया, जिसके क्रम में साइबर क्राइम सेल द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए खाते का स्टेटमेंट प्राप्त कर सम्बन्धित बैंकों व कम्पनियों से पत्राचार कर प्रभावी कार्यवाही करते हुए कुल 15,000 रूपये आवेदक उपरोक्त के बैंक खातों में वापस कराये गये ।
(4) दिनांक 12.02.2022 को ही आवेदक जितेन्द्र सिंह निवासी शंकर बाजार थाना कोतवाली कर्वी जनपद चित्रकूट द्वारा शिकायत की गया कि दिनांक 28.01.2022 को मोबाइल पर कॉल करके रिवार्ड का लालच देकर उनके वेरिफिकेशन के नाम पर ओटीपी लेकर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उनके एसबीआई क्रेडिट कार्ड से कुल 01,24,941 रूपये निकाल लिये गये, जिसके सम्बन्ध में उपरोक्त आवेदक द्वारा तत्काल पुलिस अधीक्षक चित्रकूट के समक्ष प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया, जिसके क्रम में साइबर क्राइम सेल द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए खाते का स्टेटमेंट प्राप्त कर सम्बन्धित बैंकों व कम्पनियों से पत्राचार कर प्रभावी कार्यवाही करते हुए कुल 22,800 रूपये आवेदक उपरोक्त के बैंक खातों में वापस कराये गये ।
(5) दिनांक 02.03.2022 को ही आवेदक सुधीर सिंह निवासी चनहट थाना राजापुर जनपद चित्रकूट द्वारा शिकायत की गया कि दिनांक 01.03.2022 को मोबाइल पर कॉल करके ओटीपी लेकर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उनके एसबीआई क्रेडिट कार्ड से कुल 48,480 रूपये निकाल लिये गये, जिसके सम्बन्ध में उपरोक्त आवेदक द्वारा तत्काल पुलिस अधीक्षक चित्रकूट के समक्ष प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया,जिसके क्रम में साइबर क्राइम सेल द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए खाते का स्टेटमेंट प्राप्त कर सम्बन्धित बैंकों व कम्पनियों से पत्राचार कर प्रभावी कार्यवाही करते हुए कुल 48,000 रूपये आवेदक उपरोक्त के बैंक खातों में वापस कराये गये । पुलिस अधीक्षक चित्रकूट द्वारा  साईबर सेल प्रभारी एम.पी. त्रिपाठी, उ0नि0 अनिल कुमार साहू, आरक्षी जितेन्द्र कुमार, आरक्षी रोहित सिंह, आरक्षी आशीष सिंह की कार्यवाही की के प्रति संतोष प्रकट कर प्रशंसा किया गया । जनमानस से अपील की जाती है कि गूगल पर किसी भी कम्पनी या बैंक का कस्टमर केयर का नम्बर ढूढने में बेहद सावधानी बरते तथा प्राप्त नम्बरो पर पूरी तरह भरोसा न करे और अपनी व्यक्तिगत व बैंकिग सम्बन्धी जानकारी किसी से भी साझा न करे । एनीडेस्क, टीम व्यूअर आदि रिमोट एक्सेस साफ्टवेयर का प्रयोग बेहद सावधानीपूर्वक करे, इससे साइबर अपराधियो द्वारा आपको खाते तक पहुंचकर आपके साथ आर्थिक रूप से धोखाधड़ी कर धनराशि निकाली जा सकती है । फोन पर कभी भी किसी प्रकार के लुभावने आफर प्राप्त करने हेतु कभी किसी को अपने बैंक, खाता, एटीएम न0, ओटीपी सम्बन्धी जानकारी न शेयर करे । किसी भी अनजान व्यक्ति द्वारा यदि फोन पर पैसे भेजने की बात कहे तो खूब सोच समझ कर लेन-देन करें व किसी भी अनजान लिंक/ वेबसाइट आदि को न ओपन करे, इससे आपको वित्तीय नुकसान उठाना पड़ सकता है । आनलाइन वेबसाइट के माध्यम से खरीददारी हेतु पूर्व भुगतान करते समय बेहद सावधानी बरते । सम्भव हो तो विक्रेता से पर्सनल मिले बिना लेन देन करने से बचे। अज्ञात कालर द्वारा विभिन्न सरकारी योजनाओ व कालोनी स्वीकृत किये जाने के नाम पर भी पैसो की मांग किये जाने पर ऐसे व्यक्तियो के खाते में पैसे जमा न करें तथा इसकी शिकायत निकटतम पुलिस थाने या राष्ट्रीय साइबर क्राइम हेल्पलाइन नं0 1930 या 155260  पर तुरंत क़ॉल करके करें ।

#बुन्देलखण्ड_दस्तक #आन्या_एक्सप्रेस
#चित्रकूट #जालौन   #ताजा_खबरें #न्यूज_उपडेट #उरई #झांसी #कानपुर #महोबा #हमीरपुर #डैली_उपडेट #ताजा_खबर