उच्च प्राथमिक विद्यालय रन्धीर पुर में लगे गेट को ट्रैक्टर की आवाजाही से टक्कर लगने से हुई क्षति

0
48

उच्च प्राथमिक विद्यालय रन्धीर पुर में लगे गेट को ट्रैक्टर की आवाजाही से टक्कर लगने से हुई क्षति

विद्यालय प्रांगण में बने मंदिर पर श्रीमद् भागवत का आयोजन ग्रामीणों द्वारा कराया गया था।

सौरभ कुमार जिला संवाददाता (जालौन)

कुठौंद जालौन विकासखंड कुठौंद के अंतर्गत उच्च प्राथमिक विद्यालय ग्राम रन्धीरपुर विकासखंड कुठौंद जनपद जालौन में विद्यालय की बनी बाल बाउंड्री के गेट का पिलर गिरा। विद्यालय की जगह में काफी समय से श्रद्धा भाव रखने वाला मंदिर स्थापित है ।जहां पर श्री  मद्धभागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ का आयोजन किया गया था। उसी आयोजन के दौरान सामान ट्रैक्टर द्वारा आवाजाही में ट्रॉली से टक्कर लगने से एक गेट सहित पिलर गिर गया। जिसमें किसी भी प्रकार की जनहानि नहीं हुई। जिसकी जानकारी के लिए ग्रामीणों से पूछा कि यह घटना कैसे और क्यों हुई लेकिन इसका जवाब पूरे ग्राम रणधीर पुर निवासी  द्वारा नहीं मिला। आपको बताते चलें वॉल बाउंड्री बनने के लिए जैसे ही कार्य प्रारंभ कराया गया तो उसी समय कुछ गांवों के निवासियों द्वारा इसका विरोध किया गया जिसमें कहा गया कि इस विद्यालय के पास हमारे लोगों का मंदिर बना हुआ है इसलिए इस मंदिर के होने के बावजूद विद्यालय की बाल बाउंड्री का निर्माण नहीं किया जाएगा यदि आप लोग अपनी मर्जी से पाल बाउंड्री का निर्माण करेंगे तो यह बाल बाउंड्री कभी सुरक्षित नहीं रह पाएगी यह हम लोगों का कहना है यदि हम लोगों का कहना आपको उचित लगे तो आप लोग इस बाल बाउंड्री का निर्माण ना कराएं। इस बाउंड्री निर्माण में शासन व प्रशासन की बड़ी पहल के बाद इस बाउंड्री का निर्माण करवाया गया था। जिसके बावजूद भी ग्रामीणों का कथना अनुसार का पालन नहीं किया गया ।जिसका खामियाजा आज देखने को मिल गया है। और इस पर टिप्पणी सहित शब्दों का प्रयोग बगैर कोई सर पैर के किए जा रहे हैं ।जैसे कि गेट के पिलर को मानक के अनुसार नहीं बनाया गया इसमें सीमेंट मसाला कम लगाया गया इसलिए यह पिलर अपने आप हवा में गिर पड़ा है। जबकी और बाल बाउंड्री का निर्माण किया गया है तो वह बाउंड्री हवा में क्यों नहीं गिरी। यदि मानक के आधार पर बाल बाउंड्री का निर्माण ना किया होता तो पूर्व माह में मौसम का मिजाज इतना खराब हुआ था की इतनी तेज हवा चल चुकी है। जिससे उसी समय बाल बाउंड्री को गिर जाना चाहिए था। ग्राम रन्धीर पुर को अति संवेदनशील गांव माना जाता है। क्योंकि यहां के लोग दबंग तथा गर्मजोशी एवं उदंड वादी लोग रहते हैं। इस गांव में पुलिस विभाग को भी आने के लिए विचार करना पड़ता है ।तथा भारी मात्रा में पुलिस फोर्स के साथ इस गांव में घुसने की हिमाकत कर पाते हैं। क्योंकि यहां के लोग कितने समय कौन सी बात को तूल पकड़ा दे। इसका कोई अंदाज नहीं लगा सकता है। इसलिए फेकू खबरों के अनुसार किसी भी बात को सिद्ध न किया जाए। इस प्रकरण को बहुत ही स्मरणीय नजर रखते हुए प्रशासन को बड़ी बारीकी के साथ जांच कर न्याय किया जाना न्यायोचित कार्य होगा। इस बाउंड्री गिर जाने की घटना के संबंध में थाना कुठौंद पुलिस को प्रार्थना पत्र भी दिया गया है। जिसमें जांच होने के उपरांत दोषियों के खिलाफ कार्यवाही किए जाने के लिए बात कही गई है। अब इसी का इंतजार रहेगा कि दूध का दूध पानी का पानी तब सामने निकलकर आएगा। बाउंड्री पिलर गेट अपने आप गिर गया या राजनैतिक सोच समझ षड्यंत्र के कारण इसे गिराया गया।
#बुन्देलखण्ड_दस्तक #आन्या_एक्सप्रेस
#चित्रकूट #जालौन   #ताजा_खबरें #न्यूज_उपडेट #उरई #झांसी #कानपुर #महोबा #हमीरपुर #डैली_उपडेट #ताजा_खबर #bundelkhandnews #bundelkhanddastak #बुंदेलखंडदस्तक