चोरी की बाइक सहित पकड़े गए पाँच लोगों मे चार को ही क्यों भेजा गया जेल!

0
43

चोरी की बाइक सहित पकड़े गए पाँच लोगों मे चार को ही क्यों भेजा गया जेल!

आखिर 3 दिन तक पांच लोगों को क्यों बैठाया गया था थाना मे!

गोहन पुलिस की कार्यप्रणाली संदेहास्पद! अमीर को क्लीनचिट गरीबो को भेजा जेल!

मीडिया ने पहले ही गुप्त सूत्रों से की थी इस बात की आशंका व्यक्त, हुई सच!

रिपोर्ट :- अंजनी कुमार सोनी – सौरभ कुमार

उरई (जालौन)- सरकार व आयोग भले ही लाख नियम कानून बनाये और उनका पालन करने के आदेश करे! परंतु गोहन थाना पुलिस का इस बात से कोई सरोकार नहीं है! नियम है कि किसी भी व्यक्ति को गिरफ़्तार करने के बाद 24 घंटे के अंदर उसे मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाये! परंतु ग्राम नावर से चोरी की चार बाइक सहित पकड़े गए पाँच लोगों को गोहन थाना पुलिस ने तीन दिन तक थाना मे बैठाये रखा! तीसरे दिन पांच मे से चार लोगों को ही जेल भेजा! जबकि एक लड़के पर पुलिस मेहरबान हो गई! इसे सत्ता का दबाव कहे और नोटो की गर्मी गोहन पुलिस ने केस का रुख ही बदल दिया! गुप्त सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना पुलिस ने छोडे गए युवक के भाई को फ़रार दिखा दिया! जब कि भाई यहाँ पर है ही नहीं! लोग यह नहीं समझ पा रहे हैं कि जिस युवक के पास बाइक मिली उसे मुल्जिम न बनाकर उसके भाई का नाम जोड़कर उसे क्यों छोड़ दिया गया! जब मामला न्यायालय मे चलेगा तो भाई कहेगा कि मै तो यहाँ था ही नहीं और वह निर्दोष साबित हो जायेगा! इधर जिसके पास चोरी की बाइक मिली उसे पुलिस ने छोड़ दिया! गोहन थानाध्यक्ष का यह तरीका क्षेत्र मे चर्चा का विषय बना हुआ है! इस बात का संदेह मीडिया ने गुप्त सूत्रों के आधार पर व्यक्त भी किया था जो सही साबित हुआ! गोहन पुलिस ने अमीर व्यक्ति को क्लीनचिट दे दी और चार गरीबो को जेल भेज दिया! जब कि उत्तर प्रदेश सरकार व पुलिस अधीक्षक का स्पष्ट आदेश है कि अपराधी बचना नहीं चाहिए! पर हरे गुलाबी रंग के कागजो के आगे गोहन थाना पुलिस के लिये यह आदेश कोई मायने नहीं रखता!
प्रश्न यह भी है कि आखिर तीन दिन तक पुलिस ने फ़र्द तैयार क्यों नहीं की? एक युवक को किस आधार पर और क्यों छोड़ दिया गया? पकड़े गए लोगों का कसूर यह था कि इन्होंने चोरी की बाइक खरीदी थी, पकड़ने पर इन लोगों ने उस व्यक्ति का नाम भी बताया जिसने इन्हें बाइक बेची थी तो पुलिस ने बाइक चोरी कर बेचने वाले उस व्यक्ति को क्यों नहीं पकड़ा!
आपको बताते चलें कि दिनाक 17/03/2022 की रात्रि थाना गोहन क्षेत्र के ग्राम नावर मे ईंटों चौकी व गोहन थाना पुलिस ने  चोरी की चार बाइक सहित अंशुल  उर्फ़ छोटू, राधेश्याम, धीरु रविकुमार, जाकिर को पकड़ा  था! आज 20/03/2022 को अंशुल उर्फ़ छोटू पर पुलिस ने अपनी विशेष कृपा कर छोड़ दिया व अन्य चार लोगों को तीसरे दिन जेल भेज दिया! थाना पुलिस के इस अन्याय के विरुद्ध लोगों मे रोष व्याप्त है!

#बुन्देलखण्ड_दस्तक #आन्या_एक्सप्रेस
#चित्रकूट #जालौन   #ताजा_खबरें #न्यूज_उपडेट #उरई #झांसी #कानपुर #महोबा #हमीरपुर #डैली_उपडेट #ताजा_खबर #bundelkhandnews #bundelkhanddastak #बुंदेलखंडदस्तक