जिले में विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान शुरू अभियान – 30 अप्रैल तक चलेगा जागरूकता का अभियान

0
37

जिले में विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान शुरू अभियान
– 30 अप्रैल तक चलेगा जागरूकता का अभियान

चित्रकूट ब्यूरो: जनपद में शनिवार को विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान शुरू हुआ। अभियान की शुरुआत को लेकर विविध कायर्क्रम हुए। जिला मुख्यालय में नगर पालिका के पास आयोजित कायर्क्रम में सांसद आर के सिंह पटेल ने संचारी रोग के नियंत्रण के लिए जन समुदाय को शपथ दिलाई। उन्होंने जिले वासियों का आह्वान किया कि सभी लोग अपने घर के आस-पास साफ सफाई रखें।
सांसद ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद हाथ में झाड़ू लेकर साफ-सफाई के लिए अभियान छेड़ा है। इस अभियान में जन सहभागिता जरूरी है तभी मुहल्ला, नगर व जिले के साथ प्रदेश व देश में प्रधानमंत्री का सपना साकार होगा। सीएमओ डाॅ भूपेश द्विवेदी ने बताया कि जिले में विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान का शुभारंभ रैली निकालकर किया गया। साथ ही जागरूकता के उद्देश्य से जिले में गोष्ठी, परिचचार् और प्रतियोगिताएं भी हुई। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान 30 अप्रैल चलेगा। इस दौरान वेक्टर जनित रोग जैसे मलेरिया, डेंगू और चिकनगुनिया की रोकथाम के लिए कई कायर्क्रम आयोजित किए जाएंगे। अभियान के दौरान बुखार, टीबी, कोविड आदि लक्षणों वाले व्यक्ति के बारे में घर-घर जाकर पूछताछ की जाएगी। लक्षण मिलने पर चिह्नित कर उन्हें अस्पताल भेजा जाएगा। आवश्यकता पड़ने पर निःशुल्क एंबुलेंस की सेवा भी उपलब्ध रहेगी। लक्षण मिलने वाले व्यक्ति का पूरा नाम, पता और मोबाइल नंबर सहित पूरा विवरण एएनएम के माध्यम से ब्लॉक मुख्यालय तक भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि अभियान के अंतगर्त ही जनपद में 15 से 30 अप्रैल तक दस्तक अभियान चलेगा। इसमें स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर बीमार लोगों के बारे में जानकारी लेगी और 12 साल से अधिक आयु के जिन लोगों को कोविड टीका नहीं लगा है, उन्हें कोविड टीके से प्रतिरक्षित किया जाएगा। इस मौके पर जिला पंचायत अध्यक्ष अशोक जाटव, भाजपा नेता पंकज अग्रवाल, रवि त्रिपाठी, संचारी रोग के नोडल अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ संतोष कुमार, डॉ आर के चैरिहा, जिला विद्यालय निरीक्षक बलिराज राम, डीपीएम आर के करवरिया, बाल विकास परियोजना अधिकारी बी एल गुप्ता, एसएमओ श्याम जाटव, डीएमसी यूनिसेफ दिलीप द्विवेदी, सहायक जिला मलेरिया अधिकारी आरके सिंह, रोहित व्यास, जयशंकर गुप्ता, संतोष श्रीवास्तव, अरूण कुमार आदि मौजूद रहे।

—-कुपोषित भी होंगे चिन्हित—-

अभियान के दौरान आशा, आंगनवाड़ी और संगिनी कायर्कतार् घर-घर जाकर कुपोषित और अति कुपोषित बच्चों की सूची बनाएंगी। फिर यह सूची ए.एन.एम के जरिए ब्लॉक मुख्यालय पर भेजी जाएगी। बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग कुपोषित व अति कुपोषित बच्चों को आंगनबाड़ी कायर्कतार्ओं के माध्यम से पोषण पुनवार्स केंद्रों पर उपचार एवं पोषण उपलब्ध कराएगा।

—-अन्य विभाग भी करेंगे मदद—-

जिला मलेरिया अधिकारी प्रमोद कुमार शुक्ला ने बताया कि चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग, नगर पंचायत विकास, पंचायती राज, ग्राम्य विकास विभाग, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग, शिक्षा विभाग, दिव्यांगजन विभाग, कृषि एवं सिचाई विभाग, सूचना और उद्यान विभाग की सहभागिता रहेगी। सभी विभागों को जिम्मेदारियां सौंप दी गई है। जहां भी मच्छर पनपने की संभावना होगी। वहां निरोधात्मक कारर्वाई की जाएगी।

#बुन्देलखण्ड_दस्तक #आन्या_एक्सप्रेस
#चित्रकूट #जालौन   #ताजा_खबरें #न्यूज_उपडेट #उरई #झांसी #कानपुर #महोबा #हमीरपुर #डैली_उपडेट #ताजा_खबर #bundelkhandnews #bundelkhanddastak #बुंदेलखंडदस्तक