जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में प्रार्थना पत्र देकर निस्तारित कराएं दांपत्य वाद- विदुषी

0
59

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में प्रार्थना पत्र देकर निस्तारित कराएं दांपत्य वाद- विदुषी

– जागरूकता शिविर में पूणर्कालिक सचिव ने दी जानकारी

चित्रकूट ब्यूरो: सदर तहसील क्षेत्र अंतगर्त ग्राम पंचायत चंद्रगहना में बुधवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की पूणर्कालिक सचिव विदुषी मेहा की अध्यक्षता में विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें पूणर्कालिक सचिव ने लोगों विधिक कानूनों की जानकारी दी।
जागरूकता शिविर में पूणर्कालिक सचिव विदुषी मेहा ने राष्ट्रीय लोक अदालत में वादों का निस्तारण कराने के बारे में जानकारी देते हुए गिरफ्तारी के समय व्यक्तियों के पास होने वाले अधिकारों, नालसा द्वारा नशा पीड़ितों को दी जाने वाली विधिक सेवाएं, नशा उन्मूलन योजना 2015 के तहत तंबाकू से होने वाले दुष्परिणामों एवं निःशुल्क विधिक सहायता प्राप्त करने के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि पति-पत्नी जिनके मध्य किन्ही भी कारणों से मनभेद या मतभेद हो वह न्यायालय परिसर में संचालित जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में मात्र एक प्राथर्ना पत्र देकर अपने दांपत्य विवाद को न्यायालय द्वारा विधि संगत तरीके से निस्तारित करा सकते हैं। बताया कि प्राथर्ना पत्र में दोनों पक्षों के नाम, पता, फोन नंबर, विवाद का संक्षिप्त विवरण, फोटोग्राफ्स व पहचान पत्र देना होता है। जिसके बाद समाधान के लिए प्राथर्ना पत्र अग्रिम कायर्वाही के लिए संबंधित न्यायिक पीठ को भेज दिया जाएगा। इसके अलावा उन्होंने वैकल्पिक विवाद समाधान के बारे में भी बताया कि यह प्रक्रिया विवाद को शीघ्रता से और सौहादर््र पूणर् तरीके से सुलझाने के लिए अपनाए जाने वाले सवोर्त्तम तरीकों में से एक है। इस मौके पर ग्राम विकास अधिकारी, प्रधान सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

#बुन्देलखण्ड_दस्तक #आन्या_एक्सप्रेस
#चित्रकूट #जालौन #ताजा_खबरें #न्यूज_उपडेट #उरई #झांसी #कानपुर #महोबा #हमीरपुर #डैली_उपडेट #ताजा_खबर #bundelkhandnews #bundelkhanddastak #बुंदेलखंडदस्तक