मनोकामनाओं के हैं पूरक बरहा के भगवान हनुमान

0
43

मनोकामनाओं के हैं पूरक बरहा के भगवान हनुमान

चित्रकूट ब्यूरो: कामदगिरि परिक्रमा मागर् स्थित बरहा के भगवान हनुमान भक्तों की सभी मनोकामनाओं की पूतिर् करते हैं, जो भी सच्चे मन से इनकी पूजा-अचर्ना, भजन व कीतर्न करता है। निश्चित रूप से उसकी मनोकामना पूणर् होती है।
यह अति प्राचीन मूतिर् कामतानाथ परिक्रमा मागर् में कामदगिरि की तलहटी पर प्रकृति की गोद में प्रगटे भगवान हनुमान के रूप में आज विराजमान है। यहां जो देशी घी के दीप जलाने का संकल्प लेते हैं, उसकी मनोकामना पूणर् होती है। यहां संत रणछोड़ दास महाराज ने भी तपस्या की थी। यह स्थान बहुत ही पवित्र और भक्तों की मुराद पूरी करने वाले बजरंगबली के रूप में देश दुनिया में विख्यात है। बजरंगबली इस कलयुग के भवसागर से अपने भक्तों को पार लगाते हैं। यही वजह है कि हर मंगलवार और शनिवार को यहां भजन-कीतर्न का दौर चलता है, लोग भंडारा आयोजित करते हैं। इसी क्रम में एसडीएम कॉलोनी निवासी शिक्षक अरुण कुमार अपनी मनोकामना के पूणर् होने पर अखंड रामचरितमानस पाठ और भंडारे का आयोजन शनिवार को किया। जिसमें भंडारे में सैकड़ों भक्तों ने प्रसाद ग्रहण किया।

#बुन्देलखण्ड_दस्तक #आन्या_एक्सप्रेस
#चित्रकूट #जालौन   #ताजा_खबरें #न्यूज_उपडेट #उरई #झांसी #कानपुर #महोबा #हमीरपुर #डैली_उपडेट #ताजा_खबर #bundelkhandnews #bundelkhanddastak #बुंदेलखंडदस्तक