जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गयी।

0
79

जिलाधिकारी चाँदनी सिंह व पुलिस अधीक्षक ईरज राजा की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गयी।

उरई ( जालौन) जिलाधिकारी ने परिवहन विभाग एवं नगर पालिका को निर्देशित करते हुये कहा कि शहरों में चलने वाले समस्त ई-रिक्शा का पंजीकरण कराया जाना सुनिश्चित करेगे, साथ ही ई-रिक्शा के लिये स्टैण्ड हेतु स्थान चिन्हित करें। उन्होने कहा कि शहर के अन्दर समस्त ई-रिक्शा के लिये रूट निर्धारित किया जाये। उन्होने कहा कि समस्त ई-रिक्शा चालकों के लाईसेन्स अनिवार्य होगा, बिना लाईसेन्स के चालकों के द्वारा ई-रिक्शा व आॅटो रिक्शा चलाने वालों पर कार्यवाही की जायेगी। उन्होने निर्देशित करते हुये कहा कि 18 वर्ष के कम आयु के ई-रिक्शा चालकों के विरूद्ध सघन अभियान चलाया जाये। उन्होने कहा कि ई-रिक्शा व आॅटो रिक्शा किसी भी स्थिति में हाईवे पर न जाने दिया जाये, यदि ऐसा करने वाले ई-रिक्शा व आॅटो रिक्शा हाईवे पर चलाते है तो चालकों व वाहन मालिकों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होने ई-रिक्शा व आॅटो रिक्शा यूनियन के पदाधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि समस्त ई-रिक्शा व आॅटो रिक्शा का फिटनेस अनिवार्य रूप से कराया जाये। समस्त चालकों के लाईसेन्स, ई-रिक्शा का यूनिक नम्बर व निर्धारित रूट पर चलाने हेतु प्रेरित करेगे, ताकि शहर में जाम की समस्या उत्पन्न न हो। उन्होने कहा कि आॅटो रिक्शा पर रूट व वैलिडिटी अवश्य अंकित कराये। उन्होने एन0एच0आई0 एवं लोक निर्माण विभाग को निर्देशित करते हुये कहा कि मार्गो पर स्थित अवैध कटों को शीघ्र ही बन्द कराया जाये, साथ ही दुर्घटना स्थलों पर साइन बोर्ड लगाया जाये। उन्होने निर्देशित करते हुये कहा कि समस्त विद्यालयों की वाहनों की फिटनेस अभियान चलाकर सुनिश्चित करायी जाये इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेगी।
इस अवसर पर नगर मजिस्ट्रेट राम प्रकाश, क्षेत्राधिकारी सदर गिरजा शंकर त्रिपाठी, सम्भागीय परिवहन अधिकारी(प्रशासन) सौरभ कुमार, सम्भागीय परिवहन अधिकारी(प्रवर्तन) विनय पाण्डेय, जिला विद्यालय निरीक्षक राजकुमार पण्डित, ई-रिक्शा व आॅटो रिक्शा के पदाधिकारी आदि सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।