23 तक चलेगा प्रशिक्षण

0
81

23 तक चलेगा प्रशिक्षण

चित्रकूट: गायत्री शक्तिपीठ चित्रकूट में 21 से 23 तक अप्रैल आओ गढे़ संस्कारवान पीढ़ी के कायर्क्रम के अंतगर्त चार जनपदों के प्रशिक्षकों के लिए प्रशिक्षण का आयोजन किया जाएगा। गायत्री तीथर् शांतिकुंज हरिद्वार की समन्वयक डॉ संगीता सारस्वत, डॉ अमरनाथ सारस्वत तथा राम मनोहर लोहिया अस्पताल के डॉ सुमित्रा श्रीवास्तव, डॉ सुधीर श्रीवास्तव, डॉ दिलीप तिवारी की टीम द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण का शुभारंभ डीआरआई के संगठन सचिव अभय महाजन करेंगे।
शक्तिपीठ के व्यवस्थापक डा रामनारायण त्रिपाठी ने बताया कि प्रशिक्षण में मां के गभर् में किस प्रकार से अभिमन्यु, प्रहलाद, डॉ कलाम, भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद जैसी महान आत्माओं को पैदा किया जाए, इसके लिए गभिर्णी मां को आहार बिहार, दिनचयार्, ज्ञान और विज्ञान, संगीत सुनिश्चित संगीत के साथ योग के प्रयोग से शिशु के मन एवं बौद्धिक क्षमता को प्रखर बनाया जा सकता है। जो शिक्षण मां के गभर् में 9 महीने में होता है, वह पैदा होने के बाद 90 वषोंर् तक नहीं हो सकता। गायत्री तीथर् शांतिकुंज ने संपूणर् देश में संस्कार मान पीढ़ी के माध्यम से आओ गढे संस्कारवान पीढ़ी के अंतगर्त संपूणर् देश में प्रशिक्षण चलाया। इसमें इतने अधिक प्रतिभागी शामिल हो चुके जो गिनीज बुक में भी दजर् हो चुका है।
उन्होंने बताया कि यह प्रशिक्षण गायत्री शक्तिपीठ चित्रकूट में भी 21 से 23 अप्रैल तक चलाया जा रहा है। इसमें कोई भी व्यक्ति भाग ले सकता है। इस प्रशिक्षण में चित्रकूट, बांदा, कौशांबी, प्रयागराज जनपदों के अतिरिक्त राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कुटुंब प्रबोधन तथा डीआरआई के समाज शिल्पी दंपति, ग्रामोदय विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राएं, सभी जिलों के समन्वयक तथा उप जॉन समन्वयक रमाशंकर द्विवेदी भी उपस्थित रहेंगे। 23 अप्रैल को भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा का पुरस्कार वितरण कायर्क्रम चित्रकूट जनपद एवं मजगवां तहसील के छात्र-छात्राएं तथा विद्यालयों के प्रचारगणों की उपस्थिति में होगा।