प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत गर्भवती महिलाओं की होगी निशुल्क जांच

0
41

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत गर्भवती महिलाओं की होगी निशुल्क जांच


रामपुरा ( जालौन ) प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत गर्भवती महिलाओं की व्यापक और गुणवत्ता परक प्रसव पूर्व देखभाल प्रदान करने हेतु प्रत्येक सप्ताह निशुल्क जांच उपरांत देखभाल कर उन्हें सेवाओं का न्यूनतम पैकेज प्रदान किया जाएगा ।
उक्त आशय की जानकारी देते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामपुरा के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर विनय पांडे ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए बताया कि प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान भारत सरकार की एक नई पहल है जिसके तहत प्रत्येक माह की 01- 09 -16 व 24 तारीख को सभी गर्भवती महिलाओं को व्यापक और गुणवत्तायुक्त प्रसव पूर्व देखभाल प्रदान करना सुनिश्चित किया गया है। इस अभियान के तहत गर्भवती महिलाओं को सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों पर उनकी दूसरी और तीसरी तिमाही की अवधि (गर्भावस्था के 4 महीने के बाद) के दौरान प्रसव पूर्व देखभाल का न्यूनतम पैकेज प्रदान किया जाएगा जिसमें ओबीजीवाई विशेषज्ञों / योग्य चिकित्सकों द्वारा प्रसव पूर्व अल्ट्रासाउंड सहित विभिन्न प्रकार की जांच सेवाएं , आवश्यक जीवन रक्षक दवाएं व देखरेख हेतु उचित सलाह उपलब्ध कराई जाएगी। इस अभियान में उपयुक्त नैदानिक स्थितियों की स्क्रीनिंग व समस्या जैसे हिमोग्लोबिन की कमी, गर्भावस्था प्रेरक हाई ब्लड प्रेशर, गर्भावधि मधुमेह आदि का उचित प्रबंध एवं कुपोषण से पीड़ित महिलाओं में रोग का शीघ्र पता लगाने व उसके उपचार व देखभाल पर ध्यान दिया जाएगा। डॉक्टर पांडे ने बताया कि अब तक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामपुरा पर 53 गर्भवती महिलाओं के बाउचर जनरेट हो चुके हैं जिसकी सूचना लाभार्थियों के मोबाइल नंबर पर भेजी जा रही है। उन्होंने बताया की वर्तमान में स्टाफ पूरा होने से स्वास्थ्य सेवाओं को उपलब्ध कराने में सुविधा हो रही है । वर्तमान में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर पांच एमबीबीएस डॉक्टर तीन फार्मासिस्ट एवं नरौल , पतराही नावर, जगम्मनपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सहित सात फार्मासिस्ट है एवं स्टाफ नर्स की नई नियुक्तियों से रिक्त स्थानों की पूर्ति भी हो रही है । प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर पांडे ने बताया कि गर्भवती महिलाओं को प्रसव सुविधा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामपुरा पर उपलब्ध है शीघ्र ही अन्य चार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर भी प्रसव सुविधा को शीघ्र सुदृढ़ किया जाएगा ताकि गर्भवती महिलाओं को प्रसवपीडा के दौरान नजदीक डिलेवरी व चिकित्सासुविधा मुहैया हो सके।