उप कृषि निदेशक एस०के०उत्तम ने बताया कि उ0प्र0 सरकार द्वारा कृषि प्रशिक्षित युवाओं हेतु प्रशिक्षित

0
35

उप कृषि निदेशक एस०के०उत्तम ने बताया कि उ0प्र0 सरकार द्वारा कृषि प्रशिक्षित युवाओं हेतु प्रशिक्षित

उरई (जालौन) कृषि उद्यमी स्वावलम्बन योजना के अन्तर्गत 21 ग्रामीण क्षेत्र हेतु एवं 07 शहरी क्षेत्र हेतु कुल 28 एग्रीजंक्शन केन्द्र (वन स्टाप शाप) की स्थापना का लक्ष्य जनपद जालौन को निर्धारित हुआ है। जिसके क्रम में दिनांक 25.05.2023 को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दिनांक- 15.06.2023 तक आवेदन मांगे गये थे किन्तु लक्ष्य के अनुसार आवेदन प्राप्त न होने के कारण पुनः आवेदन की तिथि बढाई जा रही है। जिसकी अंतिम तिथि दिनांक 05 जुलाई 2023 निर्धारित की जाती है। एग्री जंक्शन केन्द्र के द्वारा एक स्थान पर बीज, उर्वरक कीटनाशी लघु कृषि यंत्र की बिक्री एवं तकनीकी जानकारी कृषकों को उपलब्ध रहेंगी। एग्री जंक्शन केन्द्र की स्थापना हेतु ऐसे इच्छुक कृषि स्नातक जिनकी उम्र अधिकतम 40 वर्ष, एवं अनुसूचित जाति/जनजाति / महिलाओं को 05 वर्ष की छूट के साम आवेदन कर सकते है। पात्र अभ्यर्थियों में जिनकी जन्मतिथि पहले है, उन्हें वरीयता दी जायेगी। इच्छुक कृषि स्नातक/ कृषि व्यवसाय प्रबंधन स्नातक/ स्नातक जो कृषि एवं सहबद्ध विषयों यथा-उद्यान, पशुपालन, वानिकी, दुग्ध, पशु चिकित्सा, मुर्गी पालन आदि अपना आवेदन पत्र दिनांक 05 जुलाई 2023 तक उप कृषि निदेशक कार्यालय, बोहदपुरा जालीन रोड उरई में जमा कर सकते है। योजनान्तर्गत बीज, कीटनाशक एवं उर्वरक बिकी लाइसेंस निःशुल्क प्रदान किये जायेंगे साथ ही चयनित लाभार्थियों को 13 दिवसीय प्रशिक्षण भी प्रदान किया जायेगा। जनपद स्तरीय कमेटी द्वारा चयनित लाभार्थी द्वारा वन स्टाप शाप की स्थापना हेतु रु0 5 लाख बैंक से ऋण लिया जायेगा तथा रु0 01 लाख की स्वयं की पूंजी लगानी होगी। बैंक से लिये गये ऋण पर 03 वर्ष तक अग्रिम ब्याज पर 7.5% अनुदान की धनराशि अधिकतम रु0 60,000/- की सीमा तक योजना से दी जायेगी।