जिलाधिकारी चाँदनी सिंह ने शासन के शीर्ष प्राथमिकता के 37 बिंदुओं की विकास कार्यों की समीक्षा बैठक विकास भवन के रानी लक्ष्मीबाई सभागार में की गई।

0
49

 

जिलाधिकारी चाँदनी सिंह ने शासन के शीर्ष प्राथमिकता के 37 बिंदुओं की विकास कार्यों की समीक्षा बैठक विकास भवन के रानी लक्ष्मीबाई सभागार में की गई।

उरई (जालौन) उन्होंने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि केंद्र व राज्य सरकार द्वारा संचालित सभी योजनाओं को लक्ष्य के सापेक्ष समय व गुणवत्तापूर्ण ढंग से पात्र लाभार्थियों को लाभान्वित किया जाए। उन्होंने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को कहा कि वृक्षारोपण के लिए जो लक्ष्य प्राप्त हुआ है संबंधित अधिकारियों द्वारा वृक्षारोपण हेतु कार्य योजना प्रस्तुत नहीं की गई जिस पर नाराजगी व्यक्त की गई साथ ही निर्देशित किया गया कि पौध उठान व गड्ढा अभी से ही खोद लिए जाएं जिससे 22 जुलाई को वृहद स्तर से वृक्षारोपण किया जा सके। उन्होंने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को पूर्व में निर्देशित किया था कि गौशालाओं को वृक्षारोपण के लिए चिन्हित किया जाए, जिस पर मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी द्वारा एक भी गौशाला चिह्नित नहीं की गई वृक्षारोपण जैसे महत्वपूर्ण कार्य के प्रति रुचि नहीं ली जा रही है जिस पर जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी का स्पष्टीकरण के साथ वेतन रोकने के निर्देश दिए। उन्होंने समस्त जिला स्तरीय अधिकारी को निर्देशित किया कि जन सुनवाई व आईजीआरएस में शिकायत डिफाल्टर होने पर संबंधित के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि आईजीआरएस से प्राप्त शिकायतों का संबंधित शिकायतकर्ता से रैंडम जांच की जाएगी अगर शिकायत में फर्जीवाड़ा व असंतोष फीडबैक पाया गया तो संबंधित के विरुद्ध कठोर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। उन्होंने कहा कि किए गए विकास कार्यों में पारदर्शिता व गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए अपने-अपने विभाग की योजनाओं में बेहतर कार्य करना सुनिश्चित करें किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। जिलाधिकारी द्वारा विद्युत उपलब्धता, सड़कों का चौड़ीकरण, गड्ढा मुक्त, किसान सम्मान निधि, फसल बीमा योजना, निराश्रित गोवंश, पशु टीकाकरण, आयुष्मान कार्ड, जन आरोग्य योजना, ऑपरेशन कायाकल्प, सामाजिक पेंशन, कन्या सुमंगला योजना आदि योजनाओं की समीक्षा की गई। उन्होंने अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी को गड्ढा मुक्त अभियान चलाकर बरसात में क्षतिग्रस्त हुए सड़कों की मरम्मत किए जाने पीडब्ल्यूडी की सड़कों पर किनारों पर अतिक्रमण करने वालों को नोटिस देते हुए हटाए जाने की कार्यवाही किए जाने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने आयुष्मान कार्ड कि धीमी प्रगति पर नाराजगी जाहिर की उन्होंने ग्राम पंचायत स्तर पर पंचायत सहायकों के सहयोग लेकर आयुष्मान कार्ड की प्रगति में तेजी लाए जाने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारी जनकल्याणकारी योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन किया जाना सुनिश्चित करें एवं पात्र लाभार्थियों तक योजना का लाभ पहुंचे, योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जिलाधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिया कि ऑपरेशन कायाकल्प योजना के तहत सभी विद्यालयों में छात्र-छात्राओं के लिए अलग-अलग शौचालय, पेयजल व्यवस्था, फर्नीचर, बिजली, लाइटिंग का कार्य सहित अन्य मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हो। अध्यापकों की उपस्थिति समय से सुनिश्चित हो इसके लिए स्वयं निरीक्षण कर लापरवाह शिक्षकों पर कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। स्कूल चलो अभियान के तहत सभी बच्चों को यूनिफॉर्म जूता मौजा शत प्रतिशत अभिभावकों से खरीद करवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा महत्वकांक्षी योजना कन्या सुमंगला योजना संचालित है। उन्होंने कहा कि स्कूलों में प्रवेश कर रहे बच्चों को कन्या सुमंगला योजना से लाभान्वित कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि कन्या सुमंगला योजना में लाभार्थियों को लाभान्वित कर प्रदेश में नंबर वन की उपलब्धि हासिल करें। उन्होंने कहा कि कन्या सुमंगला योजना में रुचि के साथ बच्चों को लाभान्वित किया जाए इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी भीम जी उपाध्याय, मुख्य चिकित्सा अधिकारी नरेंद्र देव शर्मा, परियोजना निदेशक शिवाकांत द्विवेदी, श्रम रोजगार उपायुक्त अवधेश दिक्षित, डीएफओ जयप्रकाश नारायण तिवारी, जिला विकास अधिकारी सुभाष चंद्र त्रिपाठी आदि सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।