राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर महिला कल्याण विभाग द्वारा खेल के क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करने वाले बालक बालिकाओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

0
32

राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर महिला कल्याण विभाग द्वारा खेल के क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करने वाले बालक बालिकाओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

उरई (जालौन)जिलाधिकारी चाँदनी सिंह के निर्देश पर तथा जिला प्रोबेशन अधिकारी डॉ अमरेंद्र कुमार पौत्स्यायन के नेतृत्व में राजकीय बालिका इंटर कॉलेज उरई के सभागार में जहां एक और स्वावलंबन कैंप सह मनो सामाजिक परामर्श शिविर का आयोजन किया गया, वहीं दूसरी ओर मिशन वात्सल्य योजना के तहत राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर आचार्य नरेंद्र देव इंटर कॉलेज उरई के सभागार में बाल सभा का आयोजन किया गया ।वहीं अपराह्न में इंदिरा गांधी स्टेडियम में मिशन वात्सल्य योजना के तहत राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर महिला कल्याण विभाग द्वारा खेल के क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करने वाले बालक बालिकाओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।
आज राजकीय बालिका इंटर कॉलेज उरई के सभागार में महिला कल्याण विभाग की ओर से बालिकाओं व महिलाओं के लिए स्वालंबन कैंप सह मनो सामाजिक परामर्श सिविर का आयोजन किया गया ।इसमें विद्यालय के बालिकाओं को वन स्टॉप सेंटर की मनोवैज्ञानिक रागिनी, बाल कल्याण समिति की सदस्या गरिमा पाठक तथा बाल संरक्षण सेवाओं की परामर्शदाता रचना कुशवाहा द्वारा शिविर में आए बालिकाओं के प्रश्नों का तथा समस्याओं का समाधान बताया गया। बालिकाओं ने पढ़ाई में अभिरुचि के लिए क्या किया जाए ,अपने जीवन में कौन सा लक्ष्य निर्धारित करें ताकि उसको हम सहजता से प्राप्त करे तथा पारिवारिक समायोजन से संबंधित कई समस्याओं का जिक्र परामर्शदाताओं से किया जिसका उत्तर परामर्शदाताओं द्वारा दिया गया।
आज के कार्यक्रम में राजकीय बालिका इंटर कॉलेज की मनीषा सिंह सहायक अध्यापिका ,दीप्ति शांडिल्य, गीता तिवारी ,महिला आरक्षी अनु, नीरज, गीता मिश्रा तथा छात्र काजल, एकता, कनिष्का ,मुस्कान आदि ने प्रतिभाग कर उक्त शिविर को सफल बनाया ।
दूसरी ओर मिशन वात्सल्य योजना के तहत राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर आचार्य नरेंद्र देव इंटर कॉलेज उरई के सभागार में महिला कल्याण विभाग द्वारा बाल सभा का आयोजन किया गया। आयोजन की शुरुआत मां सरस्वती के तैल चित्र पर जिला प्रोबेशन अधिकारी डॉक्टर अमरेंद्र कुमार पौत्स्यायन द्वारा माल्यार्पण कर तथा दीप प्रज्वलित कर की गई। बालसभा में विद्यालय परिवार के सभी छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया तथा अपने विचार रखें। आज के बाल सभा को संबोधित करते हुए जिला प्रोबेशन अधिकारी ने बताया की हमें सिर्फ पढाई में ही नहीं बल्कि खेल में भी अभिरुचि रखने की आवश्यकता है ताकि जीवन में समायोजन की कला तथा जीवन पथ पर हार जीत दोनों के बारे में सम्यक ज्ञान प्राप्त हो सके। खेल के माध्यम से समाज में बेहतर सामंजस्य का सबक सीखना है ताकि हम हारने वाले को भी गले लगा सके तथा हार कर जीतने का हुनर सीख सके। हम उम्र बच्चों के साथ कैसे व्यवहार किया जाए तथा शिक्षा का हमारे जीवन में क्या महत्व है इस पर प्रकाश डाला। बालसभा को संबोधित करते हुए बेसिक शिक्षा विभाग से आए जिला समन्वयक विश्वनाथ दुबे ने बालक बालिकाओं का उत्साह वर्धन करते हुए कहा कि आप जीवन में लक्ष्य निर्धारित करें तथा अनुशासन के साथ कदम आगे बढ़ाऐ तो आपको मंजिल जरूर मिलेगी ।विद्यालय की सहायक प्रधानाध्यापक सुरेंद्र कुमार पांडे, अरविंद निरंजन, शिव नरेश त्रिपाठी, राजीव कुमार, सुगना देवी ,सरोज तथा महिला कल्याण विभाग से संरक्षण अधिकारी जुली खातून ,अलकमा अख्तर ,सामाजिक कार्यकर्ता सुरेश जितेंद्र तथा अन्य कार्मिकों ने प्रतिभा किया ।बालसभा में बेहतर प्रस्तुति के लिए बच्चों को महिला कल्याण विभाग की ओर से प्रशस्ति पत्र प्रदान की गई।