ड्राइवरों के आन्दोलन से राजमार्ग प्राधिकरण को हो रहा भारी नुकसान।।

ड्राइवरों के आन्दोलन से राजमार्ग प्राधिकरण को हो रहा भारी नुकसान।।

उरई (जालौन)वाहन चालकों के लिए बनाए गए नए कानून का क्षेत्र में सरकारी तथा निजी क्षेत्र में व्यापक असर पड़ रहा है। कानून से गुस्साए ड्राइवरो के आंदोलन से राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के स्ट्रक्चर को भी नुकसान पहुंच रहा है।
केंद्र सरकार के द्वारा नए कानून को लेकर राष्ट्रीय राजमार्ग में चालकों तथा वाहन ऑपरेटर ने गाड़ियों के चक्कर थम गए हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग के सूत्रों के अनुसार परसों रविवार आंदोलनरत चालकों तथा वाहन ऑपरेटर ने कालपी,आटा, उसरगांव, छौंक , उरई, जालौन, कोंच, डकोर, झांसी कानपुर हमीरपुर आदि स्थानों में राष्ट्रीय राजमार्ग 27 में जाम लगा दिया था। भीड़ इकट्ठा होने की वजह से सड़क के मेडिएशन की गई कई स्थानों में दीवारे क्षत्रिग्रस्त हो गई तथा मेडिएशन में स्थापित पेड़ पौधे बर्बाद हो गए। इसी प्रकार हाईवे में रोजाना हो रहे ड्राइवर के चक्के जाम तथा आंदोलन की वजह से चमारी, आटा, नवीपुर पिपरी में भी मेडिएशन की दीवारे, पेड़ पौधे तथा साइड बोर्ड को नुकसान पहुंच रहा है। इस संबंध में इलाकाई पुलिस को भी सूचना दी गई है। चक्का जाम होने की वजह से दिन रात गुलजार रहने वाले होटल, ढाबे, किराने, मैकेनिक, मोटर पार्ट्स की दुकान बंद पड़ी हुई है। जबकि टोल प्लाजा में वसूली पर बुरा असर पड़ रहा है।