ऊर्जा मंत्री ए के शर्मा का छठ पूजा पर प्रदेश के विद्युत उपभोक्ताओं को बड़ा उपहारः

0
6
  • अब विद्युत उपभोक्ता का शोषण या उसके साथ धोखाधड़ी नहीं हो पाएगी।
  • बिजली कर्मचारी मनमानी नहीं कर पाएँगे
    सब कुछ पारदर्शक होगा।
  • सब कुछ उपभोक्ता के संज्ञान में होगा।

लखनऊ:- प्रदेश के ऊर्जा मंत्री ए के शर्मा लगातार बिजली विभाग की व्यवस्था को सुधारने में लगे है। अपने कार्यकाल में विशेष रूप से इस दिवाली पर ऐतिहासिक आपूर्ति के साथ बिजली के मीटर, कनेक्शन या अन्य चेकिंग की प्रक्रिया को बिलकुल पार दर्शक बनाने का प्रयास कर रहे है। साथ ही शिकायतों के निस्तारण पर भी ध्यान है।

टेक्नॉलजी का उपयोग करना उनको आता है। उसका उपयोग करके उन्होंने जीओटैग फ़ोटो लेने, आख्या तुरंत अपलोड करने और शिकायत हो तो टोल फ़्री नम्बर की व्यवस्था और जन सुनवाई के लिए संभव पोर्टल जैसी व्यवस्था अल्प
काल में किया है।

अभी जारी हुआ शासनादेश बिलकुल ऐतिहासिक है। ऐसे नियम लागू करने के लिए बहुत प्रबल निष्ठा और कार्य की समझ चाहिए। बिजली चेकिंग की व्यवस्था को पारदर्शक एवं शिकायत रहित बनाने की दिशा में इसे जारी किया गया है।

इसमें विशेष रूप से उपभोक्ताओं से कहा गया है कि-

कर्मियों का परिचय पूछिए
-अपना-टीम-मीटर का फ़ोटो लीजिए
-जाँच आख्या तुरंत अपलोड हो
-कार्मिकों को कार्यालय में ही मिलें
-शिकायत टोल फ़्री-1912 पर करें

साथ ही चेकिंग टीमों के लिए भी कई कड़े निर्देश जारी किए गए हैं। ख़ास करके चेकिंग और उसके बाद जो पारदर्शकता और सख़्ती नहि होने की शिकायत आती थी वो अब दूर हो जाएगी।

मंत्री ए के शर्मा ने बताया कि उपभोक्ता का हित सर्वोपरि है। इस व्यवस्थाओं में उनका सहयोग और सावधानी दोनों प्रार्थनीय है ।