WHO के सीनियर अधिकारी का बड़ा बयान, बोले- “दुनिया से कभी नहीं जाएगा कोरोना वायरस”

Must Read

नगरपालिका की अनदेखी से दलदल में भटकने पर लोग मजबूर

नगरपालिका की अनदेखी से दलदल में भटकने पर लोग मजबूरउरई (जालौन) - रास्ते व नाली को लेकर गाँव...

ग्राम प्रधान की पहल से गांव में मनरेगा के तहत 100 मजदूरों को मिला रोजगार

ग्राम प्रधान की पहल से गांव में मनरेगा के तहत 100 मजदूरों को मिला रोजगार  जगम्मनपुर (जालौन) - रामपुरा विकास...

विकास खंड रामपुरा में हुई वार्ड सदस्यों की मतगणना हुई सम्पन्न ।।

विकास खंड रामपुरा में हुई वार्ड सदस्यों की मतगणना हुई सम्पन्न ।।रामपुरा जालौन:- विकासखंड रामपुरा मैं एडीओ पंचायत रामकुमार...

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के वरिष्ठ अधिकारी माइकल जे रेयान (Michael J Ryan) ने बुधवार को कहा है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) दुनिया के उन वायरस के जैसा हो सकता है, जो कभी नहीं जाएगा, जैसे कि एचआईवी (HIV).

स्विट्जरलैंड: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के वरिष्ठ अधिकारी माइकल जे रेयान (Michael J Ryan) ने बुधवार को कहा है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) दुनिया के उन वायरस के जैसा हो सकता है, जो कभी नहीं जाएगा, जैसे कि एचआईवी (HIV).

माइकल जे रेयान ने कहा, ‘यह अन्य वायरस के जैसा ही एक ऐसा वायरस बन सकता है, जो कभी नहीं जाते हैं, जैसे एचआईवी कभी नहीं गया.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैं दो बीमारियों की आपस में तुलना नहीं कर रहा लेकिन मेरा मानना है कि हम हकीकत को मानने वाले हैं. मुझे नहीं लगता कि कोई इस बात की भविष्यवाणी कर सकता है कि कब और कैसे यह बीमारी खत्म होगी.’

उन्होंने यह भी कहा कि केसों की संख्या अभी ज्यादा है. ऐसे में कोरोना वायरस के कारण लिए गए प्रतिबंध हटाने से यह और बड़े स्तर पर फैल सकता है. ऐसे में एक अन्य संभावित लॉकडाउन की जरूरत पड़ सकती है. लॉकडाउन को लेकर रेयान ने कहा, ‘यदि हर दिन केसों की संख्या कम होती है और कम्युनिटी में वायरस के फैलने का जोखिम भी कम होता है, उस हालात में इसे हटाया जा सकता है. अगर आप बढ़ते हुए केसों के बीच में इसे हटाते हैं तो यह और तेजी से फैल सकता है.’

उन्होंने यह भी कहा कि केसों की संख्या अभी ज्यादा है. ऐसे में कोरोना वायरस के कारण लिए गए प्रतिबंध हटाने से यह और बड़े स्तर पर फैल सकता है. ऐसे में एक अन्य संभावित लॉकडाउन की जरूरत पड़ सकती है. लॉकडाउन को लेकर रेयान ने कहा, ‘यदि हर दिन केसों की संख्या कम होती है और कम्युनिटी में वायरस के फैलने का जोखिम भी कम होता है, उस हालात में इसे हटाया जा सकता है. अगर आप बढ़ते हुए केसों के बीच में इसे हटाते हैं तो यह और तेजी से फैल सकता है.’

उन्होंने यह भी कहा कि केसों की संख्या अभी ज्यादा है. ऐसे में कोरोना वायरस के कारण लिए गए प्रतिबंध हटाने से यह और बड़े स्तर पर फैल सकता है. ऐसे में एक अन्य संभावित लॉकडाउन की जरूरत पड़ सकती है. लॉकडाउन को लेकर रेयान ने कहा, ‘यदि हर दिन केसों की संख्या कम होती है और कम्युनिटी में वायरस के फैलने का जोखिम भी कम होता है, उस हालात में इसे हटाया जा सकता है. अगर आप बढ़ते हुए केसों के बीच में इसे हटाते हैं तो यह और तेजी से फैल सकता है.’

वैक्सीन के मुद्दे पर उन्होंने कहा, ‘इस वायरस को खत्म करने के लिए यह एक उपाय हो सकता है. लेकिन उस टीके को उपलब्ध कराना होगा, इसे सभी के लिए उपलब्ध कराना होगा.’

आपको बता दें कि कोरोना वायरस दुनियाभर में कहर मचा रहा है. दुनिया में कोरोना (COVID-19) संक्रमितों की संख्या 4390000 पहुंच गई है, जबकि इससे ठीक होने वालों का आंकड़ा 1592159 और मौत के आंकड़े 295732 पहुंच गए हैं.

Latest News

नगरपालिका की अनदेखी से दलदल में भटकने पर लोग मजबूर

नगरपालिका की अनदेखी से दलदल में भटकने पर लोग मजबूरउरई (जालौन) - रास्ते व नाली को लेकर गाँव...

ग्राम प्रधान की पहल से गांव में मनरेगा के तहत 100 मजदूरों को मिला रोजगार

ग्राम प्रधान की पहल से गांव में मनरेगा के तहत 100 मजदूरों को मिला रोजगार  जगम्मनपुर (जालौन) - रामपुरा विकास खण्ड के ग्राम पंचायत जगम्मनपुर...

विकास खंड रामपुरा में हुई वार्ड सदस्यों की मतगणना हुई सम्पन्न ।।

विकास खंड रामपुरा में हुई वार्ड सदस्यों की मतगणना हुई सम्पन्न ।।रामपुरा जालौन:- विकासखंड रामपुरा मैं एडीओ पंचायत रामकुमार ने सुबह सात बजे उपस्थित...

अनियोजित जल निकासी से गिरते वाटर लेवल के कारण पेयजल संकट : राघवेन्द्र पांडेय

अनियोजित जल निकासी से गिरते वाटर लेवल के कारण पेयजल संकट : राघवेन्द्र पांडेयहैंडपंप सुधार व जल कूपों का जीर्णोद्धार ही पहली प्राथमिकता :...

वट सावित्री व्रत पर महिलाओं ने की वट वृक्ष की पूजा।

वट सावित्री व्रत पर महिलाओं ने की वट वृक्ष की पूजा। रामपुरा जालौन:-रामपुरा में वट सावित्री व्रत पर्व पर पति की दीर्घायु को लेकर वटवृक्ष...
- Advertisement -

More Articles Like This