भागीरथी के तट पर पर बही संगीत की सरिता

0

वाराणसी:- काशी की धरोहरों में प्रमुख असि घाट पर होने वाले सुबह -ए -बनारस में बुधवार को सनबीम इंग्लिश स्कूल भगवानपुर की छात्रा विदुषी वर्मा का मधुर गायन हुआ। आपके साथ तबला संगति रही जयदेव मुखर्जी की एवं हारमोनियम संगति रही सुचिस्मिता मुखर्जी की।

विदुषी ने गायन का आरंभ राग परमेश्वरी में विलंबित रूपक में निबद्ध बंदिश से किया जिसके बोल थे “नील नभ में अरुणिम रंग-रंगे “इसके उपरांत मध्य तीन ताल में निबद्ध बंदिश “ज्योतिर्मय कर दो ” साथ ही राग पहाड़ी में निबद्ध दादरा “ना जाओ तुम जमुना के पार रे” विदुषी ने गायन का समापन “तुम बिन मोरी कौन खबर ले” से किया। विदित हो कि विदुषी ख्यातिलब्ध शास्त्रीय गायक देवाशीष दे की शिष्या है। विदुषी को सुबह -ए -बनारस के वरिष्ठ सदस्य पं रमेश तिवारी ने प्रमाण पत्र प्रदान किया।कार्यक्रम का संचालन डॉ प्रीतेश आचार्य ने किया।