कटान से प्रभावित क्षेत्रों का जिलाधिकारी ने किया निरीक्षण। संस्थाओं में जाकर कल्पवासियों की स्वयं चेक की आरटी पीसीआर रिपोर्ट

0

प्रयागराज:- माघ मेला क्षेत्र के सेक्टर 4-5 में जल स्तर बढ़ने के कारण आई कटान का निरीक्षण आज जिलाधिकारी भानु चंद्र गोस्वामी ने किया। हाल ही में संगम नोज एवं कुछ अन्य घाटों पर जल के रंग में बदलाव की चिंता साधु एवं अन्य श्रद्धालुओं द्वारा व्यक्त की गई थी जिसके दृष्टिगत नरोरा डैम से पानी छुड़वाया गया था। जल स्तर बढ़ने के कारण जल स्वच्छ एवं निर्मल हो गया परंतु कटान की स्थिति भी उत्पन्न हो गई। जानकारी मिलते ही प्रशासन द्वारा त्वरित कार्यवाही की गई जिससे स्थिति पर नियंत्रण पा लिया गया एवं किसी भी तरह का नुकसान नहीं हुआ। कटान के कारण जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी मुनीषाश्रम महाराज के कैंप के पिछले हिस्से में लगे कुछ टेंट का स्थानांतरण एहतियात के तौर पर किया गया है। इसके अतिरिक्त कोई भी संस्था कटान से प्रभावित नहीं हुई है।

जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी मुनीषाश्रम जी महाराज शिविर में स्वास्थ्य विभाग द्वारा चल रहे एंटीजन टेस्ट को देखकर प्रसन्नता व्यक्त की तथा वहां उपस्थित कल्पवासियों से उनके आरटी पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट भी चेक की।

निरीक्षण उपरांत जिलाधकारी ने कुछ संस्थाओं के महंतों से भेंट की तथा वहां कोविड-19 प्रोटोकॉल का अनुपालन शतप्रतिशत सुनिश्चित करवाने का निवेदन किया। दंडी वाडा के ब्रह्म आश्रम महाराज के दर्शन करते हुए उनके शिविर में रह रहे कुछ कल्पवासियों से बातचीत की तथा उनकी भी कोविड-19 आरटीपीसीआर रिपोर्ट चेक की। जांच के दौरान सभी जगह उपस्थित शत प्रतिशत लोगों के पास 5 दिन के भीतर की आरटी पीसीआर रिपोर्ट पाई गई। बातचीत के दौरान विभिन्न जनपदों से आए कल्पवासियों ने बताया कि उन्हें संस्था द्वारा पहले से ही कह�