मनरेगा कामो का निरीक्षण करने डमरुआ व चाँदपुर पहुंचे डीएम

0
aanya express
aanya express

गौशाला का किया निरीक्षण, मजदूरों को बांटा अनाज व राशन

जौनपुर:- सिकरारा थाना क्षेत्र के डमरुआ व चांदपुर गांव में मनरेगा के तहत हो रहे तालाब व नाले की खुदाई का व गोशाला का किया निरीक्षण करने पहुंचे डीएम।

जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह बुधवार को सिकरारा ब्लाक के दो गांवो में हो रहे मनरेगा कार्यो व चांदपुर गांव में गौशाला का निरीक्षण किया।

मौके पर काम कर रहे मजदूरों को निर्देश दिया कि लॉकडाउन का पालन करते हुए शारीरिक दूरी बनाकर ही काम करे। चांदपुर गांव में गौशाला का भी निरीक्षक किया। दोनों ही गांवों में काम कर रहे मनरेगा मजदूरों को आश्वस्त किया कि आप के काम की मजदूरी एक सप्ताह में आप के खाते में भेज दी जाएगी।

जिलाधिकारी दिन में लगभग दो बजे चाँदपुर गांव पहुंचे वहां सबसे पहले गौशाला में पहुंचे। वहां प्रधानपति अरबिन्द सिंह से पूछा कि चारा पर्याप्त मात्रा में है या और चाहिए। उन्होंने बताया कि डमरुआ गांव निवासी समाजसेवी दिलीप राय बलवानी द्वारा भेजा गया भूसा अभी जानवरों को खिलाया जा रहा है। साथ ही गांव के अन्य गांवो से भी लोग भूसा भेज रहे है। ग्राम प्रधान ने भी बीस क्विंटल भूसा दान किया।

गांव में तालाब खुदाई कर रहे मजदूरों से जाब कार्ड व राशन कार्ड के बारे में पूछा तो सभी ने कहा कि बना हुआ है। डीएम ने बीडीओ छोटेलाल तिवारी व एडीओ आई एस बी अरुण पाण्डेय व ग्राम विकास अधिकारी प्रदीप शंकर श्रीवास्तव, सुरेन्द्र यादव से गांव में जाब कार्डधारियों के बारे में जानकारी लेने के बाद निर्देश दिया कि गांव में जो भी जरूरतमंद लोग है जिनका राशनकार्ड अभी तक नही बन पाया है उन लोगो बारे में जानकारी करके सूची संस्तुति हेतु अविलम्ब जिला कार्यालय में जमा करा दे।

रोजगार सेवक से कहा कि गांव में जिनका जाब कार्ड नही बना है और जो लोग दूसरे प्रदेशों से आये है उनका भी जल्द से जल्द जाब कार्ड बन जाना चाहिए। बीडीओ को निर्देश दिया कि ब्लाक के हर गांव में कम से कम 30 से 35 जाब कार्डधारी मनरेगा के मजदूर अवश्य हो। चेतावनी दिया कि अगर किसी भी गांव में शून्य मिला तो सम्बंधित गांव के कर्मचारी व रोजगार सेवकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। कहा कि हर ग्राम पंचायतों से अविलम्ब मांग पत्र मांग लीजिए जिससे हर गांव के मजदूरों को काम मिल सके।

मजदूरों से बात करते हुए कहा कि आप लोग काम करिये हम लोग आप के लिए खड़े है। कहा कि मास्क नही है तो मुँह पर गमछा बांधकर आप निर्धारित दूरी पर रहकर ही काम करे। बीडीओ को निर्देश दिया कि जहां- जहां मनरेगा के काम करेंगे वहां हाथ धोने के लिए साबुन, पानी व पीने का पानी उपलब्ध रहे। मौके पर तालाब खुदाई कर रहे मजदूरों को भोजन का पैकेट व प्रधान द्वारा काम कर रहे मजदूरों को पांच किलो राशन उपलब्ध कराया गया।।

डमरुआ गांव में भी तालाब खुदाई का काम देखा। तालाब के पास परती पड़ी जमीन के बारे में मौके पर मौजूद ग्राम प्रधान प्रेम प्रकाश तिवारी व गांव के ही निवासी दिलीप राय बलवानी से जानकारी ली तो उन्होंने बताया कि यह ग्राम सभा की जमीन है। उन्होंने प्रधान से खेल का मैदान बनवाने की बात कही। बलवानी ने जिलाधिकारी को आश्वस्त किया कि जरूरत पड़ने पर बेसहारा मवेशियों के लिए और भी चारे की जरूरत पड़ी तो वो भी किया जाएगा। जिलाधिकारी ने सहयोग के लिए बलवानी की जमकर तारीफ किया। प्रधान द्वारा जिलाधिकारी को बीस क्विंटल भूसा दान किया गया। वहां पर ब्लाक के पशु चिकित्सा अधिकारी, जेई व अन्य अधिकारियों के साथ शिक्षक नेता अमित सिंह, सुनील कुमार तिवारी, लाल साहब तिवारी, आशीष कन्नौजिया, अतुल सिंह, देवी शंकर तिवारी, मंजीत राय, रंजीत राय, आदि मौजूद रहे ।