मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के तैल चित्र का अनावरण किया

0

किसान और जवान की कोई जाति और धर्म नहीं होता-मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह

प्रयागराज 11 जनवरी,2020।1962 युद्ध में भारतीय सैनिकों का मनोबल परास्त, अमेरिका द्वारा टीएल 4 अनाज बंद करने की धमकी और दक्षिण भारत में हिंदी भाषा को लेकर मूवमेंट आदि विदेशी शक्तियां भारत को तोड़ने की साजिश रची थी उसी समय जय जवान जय किसान का नारा देकर स्व0 लाल बहादुर शास्त्री ने पूरे भारत के किसानों और जवानों को जोड़कर मजबूत राष्ट्र की आधार रखा था यह उदगार बार एसोसिएशन बोर्ड ऑफ रेवेन्यू, उत्तर प्रदेश, प्रयागराज के तत्वाधान में आयोजित संगोष्ठी, पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री  के तैल चित्र का अनावरण के अवसर पर मुख्य अतिथि सिद्धार्थ नाथ सिंह मंत्री, सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम, निवेश व निर्यात,खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम, हथकरघा, वस्त्र उद्योग एवं एन0 आर0आई0 विभाग उत्तर प्रदेश सरकार ने व्यक्त किया।

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा किसान खेतों में हल चलाता है तो कोई नहीं कहता किस जाति किस धर्म का है सब कहते हैं किसान है, चाहे यूपी, तमिलनाड, पंजाब का हो। किसानों की कोई जाति धर्म नहीं होता। जवान सरहद पर खड़ा होकर देश की सीमाओं की सुरक्षा के लिए अपने प्राणों की बाजी लगा देता है तो कोई जाति और धर्म वहां नहीं होता, यही जय जवान जय किसान के नारे से प्रेरणा मिलती है जहां पर कोई जात धर्म नहीं है देश के लिए भारतवासियों के जवानों और किसानों ने समर्पित होकर एक राष्ट्र में पिरोया है। 1965 के युद्ध के दौरान भारत का प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट से होकर ताशकंद जा रहे थे,तो पत्रकारों ने पूछा आप छोटे कद के हैं और पाकिस्तान के राष्ट्रपति अय्यूब खान छ फिट के हैं तो कैसे वार्ता करेंगे। उस समय मेरे नाना ने कहा था भारत सर उठा कर बात कर रहा होगा और पाकिस्तान का राष्ट्रपति सर झुका कर बात करेगा,सही मायने में आज 56 इंच की प्रेरणा वही से महसूस होता है।

इससे पहले राजस्व परिषद प्रयागराज में बार एसोसिएशन के तत्वाधान में प्रधानमंत्री स्वर्गीय लाल बहादुर शास्त्री  के पुण्यतिथि पर आयोजित कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने राजस्व परिषद बार एसोसिएशन कक्ष में शास्त्री जी के तैल चित्र का अनावरण किया। इसी दौरान राजस्व परिषद के न्यायिक सदस्य गण एवं बार के पदाधिकारियों से औपचारिक भेंट हुई और बैठ कर राजस्व परिषद में कार्य के दौरान अधिवक्ताओं की कठिनाइयों आदि विषय पर चर्चा हुई। जिस पर एक ज्ञापन पत्र देकर अधिवक्ता कक्ष बनाने का आग्रह किया। मंत्री ने शासन को भेज कर पूरा सहयोग देने का संकल्प लिया। कार्यक्रम का संचालन महामंत्री वीके पांडे अध्यक्षता एचएन शर्मा ने किया कार्यक्रम के दौरान राजस्व परिषद बार के अध्यक्ष हर्ष नारायण शर्मा ने शास्त्री जी के जीवन पर प्रकाश डाला,कई स्मरण को याद किया।

इस मौके पर भास्कर गोविंल, सुनील श्रीवास्तव, पवन श्रीवास्तव, अनिल सिंह, मनीष पांडे, सीबी धर दुबे, श्रवण दुबे, विपुल, सत्येंद्र सिंह, शैलेंद्र सिंह, क्षमानाथ, विजय शंकर, रेखा सिंह, अचल सिंह, मनोज मिश्रा, सुधांशु पांडे, रमेश पुंडरीक, अशोक कुमार, श्रीमती गजाला आदि अधिवक्ता उपस्थित रहे। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलन कर मंत्री ने शास्त्री जी को नमन कर याद किया।

इससे पहले दिल्ली से प्रयागराज एयरपोर्ट आने पर सीधे भाजपा नेत्री पूर्व प्रदेश अध्यक्ष महिला मोर्चा स्व0 शैलतनया श्रीवास्तव के पार्थिव शरीर के समक्ष उपस्थित होकर श्रद्धांजलि अर्पित किया।