वाराणसी में लॉकडाउन 4 की तैयारी शुरू, खोले जा सकते हैं मंदि‍र, महंतों को बनानी होगी पर्याप्‍त व्‍यवस्‍था

0

वाराणसी:- उत्तर प्रदेश के पर्यटन, संस्कृति, धर्मार्थ कार्य एवं प्रोटोकॉल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ0 नीलकंठ तिवारी एवं स्टांप एवं पंजीयन शुल्क राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविंद्र जायसवाल संयुक्त रूप से गुरुवार को सर्किट हाउस सभागार में अधिकारियों के साथ आवश्यक बैठक की है।

इस बैठक में मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी ने जिलाधिकारी से कहा कि लॉकडाउन के दौरान आगे अब भविष्य में और भी छूट दी जाएगी और काशी की मंदिरों में लोग अपने आराध्य के दर्शन के लिए जाएंगे। ऐसी स्थिति में सोशल डिस्टेंसिंग को अपनाते हुए लोग दर्शन लाभ प्राप्त कर सकें, इसके लिए प्रमुख मंदिरों के महंतों के साथ भी बैठक कर विचार विमर्श कर आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाए।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि किसानों को उनके उत्पादों का सही मूल्य प्राप्त हो सके, इसके लिए व्यवस्था व्यवस्था चार-पांच दिनों में शुरू हो जाएगा। तब किसान सीधे मंडी में अपनी सामान बेच सकेगा। उन्होंने बताया कि किसानों को यह भी व्यवस्था दी गयी है कि वे ई-रिक्शा या ऑटो रिक्शा के साथ टाइअप कर सब्जियों को अपने आसपास के चार-छः मोहल्लों में घूमकर बेच सके। इससे जहां किसानों को उत्पाद का सही मूल्य मिल सकेगा, वही ई-रिक्शा एवं ऑटो रिक्शा वाला भी लाभान्वित होगा।

मंत्री रविंद्र जायसवाल ने किसानों के उत्पादों विशेषकर सब्जियों की बिक्री में बिचौलियों का हस्तक्षेप समाप्त कराए जाने पर विशेष जोर देते हुए कहा कि ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाए, ताकि किसान अपनी सब्जियों को आवश्यकतानुसार अपने आसपास के क्षेत्र में स्वयं बिक्री कर सके। इससे उसे निश्चित रूप से उचित मूल्य प्राप्त हो सकेगा और बिचौलियों का प्रभाव समाप्त होगा।