आर्यावर्त बैंक के कर्मचारी की अनुशासनहीनता को लेकर आर एम ने किया बैंक का निरीक्षण

रामपुरा(जालौन)-  कस्वे की आर्यावर्त बैंक पूर्व में भी विवादों में घिरी रही हैं। फिर चाहे वो बैंक स्टाफ की आपसी तनातनी हो या फिर ग्राहकों के साथ अभद्रता।

वैसे भी आज पूरा विश्व एक भयानक महामारी से जूझ रहा हैं। ऐसे हालातो में प्रशासन द्वारा जनता को धीरे धीरे राहत देने का कार्य किया जा रहा हैं। लेकिन चंद कर्मचारी अपने उदासीन रवैया के कारण सरकार के इरादों को तक पर रखते हुए अगूंठा दिखा रहे हैं। ऐसे ही एक वाक्य कस्वे की आर्यावर्त बैंक का हैं। बैंक के चपरासी विनोद परिहार द्वारा लगातार बैंक स्टाफ व ग्राहकों से बुरे बर्ताव की शिकायत कई बार की जा चुकी हैं। लेकिन कस्वे के राठौर मोबाईल दुकानदार से बदसलूकी चपरासी विनोद परिहार को महंगा पड़ गया। दुकानदार द्वारा बैंक के आर एम आर पी गुप्ता व बैंक मैनेजर अभय प्रताप सिंह को चपरासी के बर्ताव के बारे में बताया।

आज बैंक के आर एम आर पी गुप्ता द्वारा रामपुरा पहुँचकर कस्वे की आर्यावर्त बैंक शाखा का निरीक्षण किया व विनोद कुमार परिहार का तबादला करने की बात कही। दूसरी तरफ लोगो से कहा अगर कोई बैंक कर्मचारी आपके साथ अभद्रता करता हैं तो आप तुरंत अवगत कराये। जिससे कार्यवाही की जा सके। आर एम ने बताया कि विनोद कुमार की पहले भी कई शिकायतें आ चुकी हैं। कुछ दिन पहले अखबार में भी इनके बारे में छापा गया था। इनके कारण बैंक का भी नाम खराब हुआ हैं। आर एम ने व्यपारियों को आश्वासन देते हुए कहा कि आज के बाद किसी के साथ बैंक कर्मचारी द्वारा अभद्रता की जाती हैं तो उसके लिए शाखा प्रबंधक जिम्मेदार होंगे।