निजामुद्दीन मरकज में उड़ी थीं सोशल डिस्‍टेंसिंग की धज्जियां, सामने आया नया वीडियो

0

दिल्‍ली पुलिस के हवाले से ANI ने एक वीडियो जारी किया है। 26 मार्च के इस वीडियो में मरकज के भीतर अच्‍छी-खासी भीड़ दिख रही है और लोग समूहों में बैठे हुए हैं।

नई दिल्‍ली :-  पूरी दुनिया जब कोरोना वायरस के डर के चलते मिलना-जुलना बंद कर चुकी थी, उस समय निजामुद्दीन के मरकज में लोग ग्रुप्‍स में बैठकर तकरीरें कर रहे थे। दिल्‍ली पुलिस के हवाले से मरकज के भीतर का एक वीडियो आया है जिसमें साफ दिख रहा है कि यहां पर कैसे सोशल डिस्‍टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई गईं। 26 मार्च की शाम का यह वीडियो बताता है कि उस वक्‍त यहां बड़ी संख्‍या में लोग भीतर जमा थे। लोग ग्रुप्‍स में बैठे थे और सोशल डिस्‍टेंसिंग फॉलो नहीं हो रही थी।

इससे पहले भी पुलिस ने एक वीडियो जारी किया था जिसमें एसएचओ निजामुद्दीन मुकेश वालिया मरकज तबलीगी जमात के प्रबंधन के साथ बैठे हुए हैं। एसएचओ चेतावनी के साथ साथ समझा रहे हैं कि, मरकज में भीड़ न लगायें। जो लोग हैं उन्हें तुरंत यहां से आउट कर दें। अगर आप लोग नहीं मानेंगे और हमारी बात नहीं सुनेंगे तो ठीक नहीं होगा।

ये है नया वीडियो

मरकज के चलते बढ़े कोरोना के मामले
पिछले 24 घंटे में ही देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 386 नए मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से अकेले 164 केस सीधे-सीधे दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी गतिविधियों में हिस्सा लेने वाले लोगों से जुड़े हैं। अभी कई सैंपल्‍स की रिपोर्ट आनी बाकी हैं।

इमारत के भीतर थे 2361 लोग
चिकित्सा कर्मचारियों की मदद से 36 घंटे के ऑपरेशन के बाद, सुबह 4 बजे तक पूरी इमारत खाली कर दी गई। कुल 2361 व्यक्ति पाए गए, जिनमें से 617 को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है और बाकी सभी को क्वारेंटाइन कर दिया गया है। तबलीगी जमात मरकज पर महामारी अधिनियम के प्रावधानों और आईपीसी की धारा 120 बी (आपराधिक साजिश) के उल्लंघन के लिए मामला दर्ज किया गया है। क्राइम ब्रांच मरकज प्रमुख के साथ-साथ साद साद कंधालवी से भी पूछताछ करेगी।

मरकज में शामिल होने वाले कहां गए? पता लगा रहा रेलवे
अब उन लोगों का पता लगाया जा रहा है जो मरकज के कार्यक्रम में शामिल होकर अपने-अपने घरों को लौट रहे जमातियों के संपर्क में आए थे। रेलवे इस बेहद चुनौतीपूर्ण काम को अंजाम देने में जुट गया है। रेलवे उन पांच ट्रेनों के यात्रियों का पता लगाने में जुट गई है जिनमें जमातियों ने दिल्ली से अपने-अपने गंतव्यों तक सफर किया था। इन ट्रेनों से सफर करने वाले यात्रियों की संख्या हजारों में है। ये सभी ट्रेनें 13 से 19 मार्च के बीच दिल्ली से रवाना हुईं थीं। इनमें आंध्र प्रदेश को जानेवाली दुरंतो एक्सप्रेस, चेन्नै तक जाने वाली ग्रैंड ट्रंक एक्सप्रेस, चेन्नै को ही जानेवाली तमिलनाडु एक्सप्रेस, नई दिल्ली-रांची राजधानी एक्सप्रेस और एपी संपर्क क्रांति एक्सप्रेस शामिल हैं।