कोरोना काल में सब्जियों के दाम छूने लगे आसमान

0
75

कोरोना काल में सब्जियों के दाम छूने लगे आसमान

० गृहणियों की रसोई का बजट बिगाड़ रखा बढ़ते सब्जी के दामों ने

 

रामपुरा (जालौन)। जनपद जालौन कोविड-19 बढ़ते खतरे के बीच सब्जियों के दाम भी ऊंचाई छूने लगे है पिछले एक सप्ताह में कई सब्जियों के दामों में दोगुना इजाफा हो गया है। इससे ग्रहणियों की रसोई का बजट बिगड़ता दिखाई देने लगा है। सब्जियों के दामों के बढ़ने के पीछे आम लोग सब्जी के आवागमन कम होना मानकर चल रहे है। इस सम्बंध में थोक सब्जी बिक्रेताओं से बात की गयी तो उनका कहना कि कोविड-19 महामारी की बजह से सब्जियों का निर्यात भी प्रभावित हुआ है इसी कारण सब्जियों के दाम भी बढ़ना लाजिमी है। नगर की महिलाएं शांति देवी,बबली देवी,अर्चना देवी ,रचना,आदि महिलाओं का कहना है कि कोरोना काल में रोजगार पहले से ही प्रभावित है इसी बीच पिछले एक सप्ताह में सब्जियों के दाम आसमान छूने लगे है।उनका मानना है कि बढ़ती महंगाई ने रसोई का बजट बिगाड़ कर रख दिया है। तो वहीं सब्जियों के आसमान छूते नजर आ रहे है बाजार में आलम यह है कि 100 रुपये में आने वाली सब्जी इस समय 300 रुपये में आ रही है।मौजूदा समय में भिंडी 60 रुपये किलो, तुरई 30 रुपये किलो, टमाटर 20 रुपये किलो,आलू 15 रुपये किलो, कददू 30 रुपये किलो, गोभी 50 रुपये का एक, हरी मटर 100 रुपये किलो के रेट में बेची जा रही है। फिर भी आम आदमी खरीदने को मजबूर दिखाई दे रहा है।