गांवों में जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को करें जंगलों के प्रति जागरूक- डीएम

0
51

गांवों में जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को करें जंगलों के प्रति जागरूक- डीएम

– वन अग्नि सुरक्षा व जागरूकता अभियान में डीएम ने दिए निर्देश

चित्रकूट ब्यूरो: जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल की अध्यक्षता में रविवार को वन अग्नि सुरक्षा एवं जागरूकता अभियान गोष्ठी मानिकपुर रेंज परिसर में आयोजित की गई। जिसमें डीएम ने सभी अधिकारियों को निदेर्शित किया कि गांव स्तर पर जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को जागरूक करें तथा जंगलों को आग से बचाएं।
गोष्ठी में जिलाधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि यह एक-दो महीने बहुत ही संवेदनशील है। इस दौरान जंगलों के प्रति हमें सजग रहने की जरूरत है। कहा कि यह जंगल फल, फूल, लकड़ी के अलावा प्राणवायु भी देते हैं। अगर वनस्पति नहीं होगी, तो जीवन नहीं होगा। जिलाधिकारी ने कहा कि आग लगने पर सभी अधिकारियों बता दिया जाता है, लेकिन इसे रोकने में सबके सहयोग की जरूरत होती है। जागरूक नागरिकों होने के नाते आग समय रहते ही बुझाने में अपना सहयोग दें अन्यथा यह धीरे-धीरे विकराल रूप धारण कर लेती है। इससे बहुत से वन्य जीव व वनस्पतियां समाप्त हो जाती है। उन्होंने अधिकारियों को निदेर्शित किया कि गांवों में नागरिकों को जागरूक कर जंगलों में आग लगने से बचाएं। ग्राम स्तर पर जागरूक करें कि छोटी सी लापरवाही से बहुत बड़ी घटना हो जाती है। कहा कि पेड़ की पत्तियों को न जलाए तथा इनसे खाद बनाए। अग्निशमन विभाग के अधिकारियों से कहा कि इस मामले में सतकर्ता बरतते हुए कुछ नवयुवकों की टीम बनाकर आग को जल्द बुझाने के तरीके बताएं। अगर आग लग जाती है, तो प्राथमिक के तौर पर मिट्टी डाल दें जिससे कि आग को कुछ हद तक रोका जा सके। कहा कि मानिकपुर में अस्थाई रूप से अग्निशमन की गाड़ियां रखी जाएंगी। कहा कि पुराना रिकॉडर् लेकर संवेदनशील क्षेत्रो चिन्हित कर वहां ज्यादा ध्यान दें।
प्रभागीय वनाधिकारी आर के दीक्षित ने बताया कि वनों में आग से सुरक्षा करना हमारा दायित्व है। लोगों को जागरुक करें कि जंगलों में महुआ बीनते समय वहां आग न लगाए, यह आग धीरे-धीरे जंगलों में फैल जाती है। कहा कि जंगल हमारा नहीं, सबका है तथा इसको बचाना भी हम सबका दायित्व है। लोगों के बीड़ी-सिगरेट पीकर बिना बुझाएं फेंक देने से भी जंगलों में आग लग जाती है, इसके प्रति भी लोगों को जागरूक करें। क्षेत्राधिकारी सुबोध गौतम ने बताया कि जंगलों में आग लगने पर लोकल स्तर को भी प्राथमिकता से आग बुझाने की जरूरत है। उन्होंने सभी ग्राम प्रधानों से अपील है सभी लोग ऐसे हालातों में सहयोग करें। ब्लाक प्रमुख मानिकपुर अरविंद मिश्रा ने कहा कि इसमें सबसे महत्वपूणर् भूमिका ग्राम प्रधान की होती है। कहा कि सभी ग्राम प्रधान ग्रामीणों को जागरूक करें, जिससे कि आग नहीं लग पाएगी। उन्होंने जिलाधिकारी से निवेदन किया कि अस्थाई रूप से मानिकपुर में दो-तीन माह के लिए अग्निशमन गाड़ियों की व्यवस्था कराई जाए, जिससे कि आग लगने पर तुरंत उस पर काबू पा लिया जाए। प्रधान संघ के जिलाध्यक्ष सुनील शुक्ला ने सभी ग्राम प्रधानों का आह्वान किया कि सभी लोग इस कायर् में सहयोग करें तथा जागरूकता फैलाएं। गोष्ठी में रामपुर कल्याणपुर के प्रधान आनंद कुमार, इटावा डूडौला के प्रधान रहस बिहारी, जारो माफी के प्रधान विपिन कुमार, पत्रकार अनुज हनुमत आदि लोगों ने भी विचार व्यक्त किए और इसमें सहयोग देने के लिए संकल्प लिया।
इस मौके पर उपजिलाधिकारी मानिकपुर प्रमेश श्रीवास्तव, डीपीआरओ तुलसीराम, खंड विकास अधिकारी सुनील सिंह, अग्निशमन अधिकारी लालजी मिश्रा सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

#बुन्देलखण्ड_दस्तक #आन्या_एक्सप्रेस
#चित्रकूट #जालौन   #ताजा_खबरें #न्यूज_उपडेट #उरई #झांसी #कानपुर #महोबा #हमीरपुर #डैली_उपडेट #ताजा_खबर #bundelkhandnews #bundelkhanddastak #बुंदेलखंडदस्तक