कलेक्ट्रेट सभागार में आने वाले त्याहारों के दृष्टिगत कानून व्यवस्था को लेकर बैठक की गई।

0
42

कलेक्ट्रेट सभागार में आने वाले त्याहारों के दृष्टिगत कानून व्यवस्था को लेकर बैठक की गई।

उरई ( जालौन) मंडलायुक्त अजय शंकर पाण्डेय व उपमहानिरीक्षक पुलिस जोगेंद्र कुमार ने कलेक्ट्रेट सभागार में आने वाले त्याहारों के दृष्टिगत कानून व्यवस्था को लेकर बैठक की गई। उन्होंने आगामी त्योहारों के मद्देनजर एवं सुरक्षा के दृष्टिगत जनपद में पैदल मार्च किया जाए और धर्मगुरुओं से त्योहारों को शांतिपूर्ण वातावरण मनाने के लिए संवाद किया जाए। उन्होंने कहा कि माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले अराजक तत्वों के साथ पूरी कठोरता के साथ सुसंगत धाराओं में कारवाई की जाए। उन्होंने तहसीलदार, उप जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी, थाना प्रभारियों को अपनी तैनाती के क्षेत्र में भ्रमणशील रहने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हर एक त्योहार शांति और सौहार्द के बीच संपन्न हो इसके लिए स्थानीय जरूरतों के अनुसार सभी जरूरी प्रयास किए जाएं और गलत बयान जारी करने वालों के साथ कड़ाई से पेश आएं। माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले अराजक तत्वों के साथ पूरी कठोरता बरती जाए। उन्होंने कहा कि अधिकारी अपने अपने क्षेत्र के धर्मगुरु व समाज के अन्य प्रतिष्ठित जनों के साथ सतत संवाद बनाएं। उन्होंने कहा कि धार्मिक कार्यक्रम पूजा-पाठ आदि निर्धारित स्थान पर ही हो और यह सुनिश्चित करें कि सड़क मार्ग यातायात बाधित कर कोई धार्मिक आयोजन नहीं हो। उन्होंने कहा कि अपनी धार्मिक विचारधारा के अनुसार सभी को अपनी उपासना पद्धति को मानने की स्वतंत्रता है। उन्होंने कहा कि माइक का प्रयोग किया जा सकता है लेकिन यह सुनिश्चित हो कि माइक की आवाज उस परिसर से बाहर ना आए अन्य लोगों को कोई असुविधा नहीं होनी चाहिए। उन्होंने यह भी स्पष्ट कहा कि नए स्थानों पर माइक लगाने की अनुमति नहीं दी जाए। उन्होंने बिना विधिवत अनुमति के कोई शोभायात्रा धार्मिक जुलूस निकालने पर रोक लगाने के साथ ही यह भी साफ किया कि अनुमति देने से पूर्व आयोजक से शांति सौहार्द कायम रखने के संबंध में शपथ पत्र लिया जाए। उन्होंने कहा कि अनुमति केवल उन्हीं धार्मिक जुलूसों को दिया जाए जो पारंपरिक हो नए आयोजनों को अनावश्यक अनुमति न दी जाए। उन्होंने कहा कि जनपद के टॉप 10 माफियाओं का चिन्हित कर कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि खनन माफिया, शराब माफिया, भू माफिया, वन कटान माफिया ऐसे आदि माफियाओं पर कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार के स्पष्ट निर्देश है कि किसी भी प्रकार का माफिया न रहे माफियाओं की अवैध संपत्ति भी कुर्क की जाए। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपनी-अपनी तहसील व थानों में शिकायतकर्ता की शिकायतों को निस्तारण पूर्ण निष्पक्ष व गुण दोष के आधार पर निस्तारण किया जाए। शिकायत कर्ताओं को तहसील व थानों के बार-बार चक्कर न लगाने पड़े इसका विशेष ध्यान रखा जाए एक ही बार में शिकायतकर्ता को पूर्ण संतुष्टि से शिकायत का निस्तारण किया जाए। उन्होंने कहा कि अधिकारी अपनी कार्यप्रणाली में सुधार लाएं आम जनमानस में यह संदेश जाना चाहिए कि हमारे अधिकारी भ्रष्टाचार मुक्त व पूर्ण निष्ठा से आम जनता की सेवा कर रहे हैं और परिसर के अंदर दलालों को बैठने नहीं दिया जाता है। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि उप जिला अधिकारी प्रमाण पत्र दे के हमारे क्षेत्र के अंतर्गत कोई भी अतिक्रमण नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर अतिक्रमण है तो जल्द से जल्द अतिक्रमण मुक्त किया जाए।
उपमहानिरीक्षक जोगेंद्र कुमार ने कहा कि जनपद में अराजक तत्वों द्वारा सौहार्द बिगाड़ने वालों पर पैनी नजर रखी जाए। ऐसे व्यक्तियों को चिन्हित कर सुसंगत धाराओं में जेल भेजा जाए। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर अराजकता फैलाने वाले मैसिज पर निगरानी रखें तत्काल उस व्यक्ति को पकड़कर जेल भेजा जाए। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था से खिलवाड़ करने का किसी को भी अधिकार नहीं यह सुनिश्चित किया जाए। ऐसा करने वालों पर सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कठोरतम कार्रवाई अमल में लाई जाए। उन्होंने कहा कि स्कूल खुलने से लेकर बंद होने तक एंटी रोमियो टीम पैदल मार्च करते रहे। उन्होंने कहा कि महिला अपराध मामलों में त्वरित मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही करना सुनिश्चित करेंगे। इसमें किसी भी प्रकार की हीला हवाली बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मंडलायुक्त ने शासन के निर्देश के क्रम में सभी विभागाध्यक्ष तहसील व ब्लाक स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए के सभी अधिकारी अपने अपने दफ्तरों में 10:00 बजे से बैठे तथा जनता की शिकायतों का निस्तारण सुनिश्चित करें। शासन से प्राप्त निर्देशों के क्रम में आगामी 4 मई तक सभी अधिकारियों कर्मचारियों की छुट्टियां निरस्त कर दी गई हैं तथा ऐसे अधिकारी जो पहले से अवकाश पर हैं उन्हें तत्काल वापस ड्यूटी पर आने को कहा गया है इसके अलावा ब्लॉक और तहसील स्तरीय अधिकारियों को उनके तैनाती के ब्लाक, तहसील में निवास करने व कार्यालय में समय से उपस्थित रहने के सख्त आदेश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि सरकारी कार्यालयों का औचक निरीक्षण कराया जाएगा तथा गैर हाजिर रहने वाले अधिकारियों कर्मचारियों की जवाबदेही तय की जाएगी।
इस अवसर पर जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन, पुलिस अधीक्षक रवि कुमार, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व पूनम निगम, अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे विशाल यादव, अपर पुलिस अधीक्षक असीम चौधरी, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अंकुर कौशिक सहित समस्त उप जिलाधिकारी सीईओ आदि मौजूद रहे।

#बुन्देलखण्ड_दस्तक #आन्या_एक्सप्रेस
#चित्रकूट #जालौन   #ताजा_खबरें #न्यूज_उपडेट #उरई #झांसी #कानपुर #महोबा #हमीरपुर #डैली_उपडेट #ताजा_खबर #bundelkhandnews #bundelkhanddastak #बुंदेलखंडदस्तक