तेरहा अक्टूबर को रिलीज फिल्म गुठली लडडू

तेरहा अक्टूबर को रिलीज फिल्म गुठली लडडू

अभिनेता संजय मिश्रा के साथ दिखाई देंगे कोंच निवासी प्रवीण चंद्रा एवं झाँसी निवासी आरिफ़ शहडोली

कोंच (जालौन) कोंच नगर के बॉलीवुड फिल्मों ने फिल्मों में मनोरंजन के साथ सामाजिक समस्याओं और बुराइयों पर प्रहार किया हैं और दर्शकों ने इस तरह के सिनेमा को पसंद भी किया हैं। अभिनेता संजय मिश्रा और बुंदेलखंड के प्रसिद्ध अभिनेता आरिफ शहडोली तथा कोंच निवासी अभिनेता प्रवीण चंद्रा की भूमिका वाली फ़िल्म “गुठली लड्डू” भी भेदभाव जैसे गंभीर सामाजिक मुद्दे के साथ शिक्षा के अधिकार की बात करती हैं। फ़िल्म में अभिनेता संजय मिश्रा स्कूल के प्रिंसिपल की भूमिका के किरदार में नज़र आएंगे जो गुठली के शिक्षा के अधिकार की लड़ाई का मुख्य नायक हैं । खलनायक की भूमिका में आरिफ शहडोली हैं, वही प्रवीण चंद्रा ने सह अभिनेता के रूप में फ़िल्म में काम किया है। फ़िल्म 13 अक्टूबर को सिनेमागृह में प्रदर्शित होगी |
यूवी फिल्म्स बैनर तले निर्मित , निर्माता प्रदीप रंगवानी द्वारा “गुठली लड्डू” सामाजिक परिवर्तन की ओर एक साहसिक पहल हैं ” फ़िल्म में संजय मिश्रा, सुब्रत दत्ता , धनय शेठ, कल्याणी मुळे, कंचन पगारें , अर्चना पटेल, आरिफ़ शहडोली, प्रवीण चंद्रा
और संजय सोनू प्रमुख भूमिकाओं में नजर आएंगे । फ़िल्म के निर्देशक इशरत आर खान हैं।
दूरभाष पर बात करते हुए फ़िल्म अभिनेता प्रवीण चंद्रा ने कहा कि “सिनेमा समाज का दर्पण है, और ‘गुठली लड्डू’ उन संघर्षों और सपनों का प्रतिबिंब है जिनका कई लोगों को अपनी यात्रा में सामना करना पड़ता है। यह फिल्म सिर्फ बच्चे गुठली की कहानी नहीं है ; मुद्दों को प्रभावशाली तरीक़े से रखने और हमारे समाज की बेहतरी में योगदान देने के बारे में है। वहीं आरिफ़ शहडोली ने बताया “‘गुठली लड्डू’ के साथ, हम उन किरदारों को पर्दे के जरिए दर्शकों तक पहुँचा रहे हैं जो सामाजिक मानदंडों और पूर्वाग्रहों को चुनौती देते हैं फ़िल्म में कोंच तहसील के ग्राम गैदोली निवासी अभिनेता प्रवीण चंद्रा के पिता गैदोली ग्राम के तथा माता जी भदेवरा की मूल निवासी है। लखनऊ में आपने इप्टा के साथ भी काम किया है। प्रवीण चंद्रा ने मलिन बस्तियों और ग्रामीण परिवेश के लगभग दस हज़ार बच्चों को थिएटर सिखाया है और वर्तमान में मुंबई में फ़िल्मों में कार्य कर रहे हैं।
इप्टा कोंच के संरक्षक डॉ मुहम्मद नईम, अध्यक्ष अनिल वैद, रंगकर्मियों साहना ख़ान, ट्रिकल राठौर, पारसमणि अग्रवाल, अंकुर राठौर, अमन अग्रवाल, यूनुस मंसूरी, अमन ख़ान, आस्था बाजपेयी, कोमल अहिरवार, योग्वेन्द्र कुशवाह आदि ने फ़िल्म के रिलीज होने पर प्रसन्नता ज़ाहिर की।