जालौन डीएम द्वारा आज संचारी रोग नियंत्रण/ दस्तक अभियान “अन्तर्विभागीय” समन्वय समिति की बैठक कलैक्ट्रेट

जालौन डीएम द्वारा आज संचारी रोग नियंत्रण/ दस्तक अभियान “अन्तर्विभागीय” समन्वय समिति की बैठक कलैक्ट्रेट

सभागार में आयोजित हुई, अंतर्विभागीय बैठक के दौरान सफल व सुचारू संचालन के लिए संबंधित को निर्देशित किया गया।

जालौन उरई डीएम द्वारा आज कलेक्ट्रेट सभागार उरई

उरई (जालौन) जिलाधिकारी राजेश कुमार पाण्डेय ने संचारी रोग नियंत्रण व दस्तक अभियान अंतर्विभागीय समन्वय समिति की कलेक्ट्रेट सभागार में समीक्षा कर जालौन डीएम द्वारा आज संचारी रोग नियंत्रण/ दस्तक अभियान “अन्तर्विभागीय” समन्वय समिति की बैठक कलैक्ट्रेट सभागार में आयोजित हुई, अंतर्विभागीय बैठक के दौरान सफल व सुचारू संचालन के लिए संबंधित को निर्देशित किया गया।वश्यक दिशा निर्देश दिए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि 3 अक्टूबर से लेकर 31 अक्टूबर तक विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाया जा रहा है। जिलाधिकारी ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अभियान के उद्देश्यों की पूर्ति के लिए शहर से लेकर ग्रामीण स्तर पर कार्यरत स्वास्थ्य कर्मी घर-घर जाकर लोगों को जागरूक करें। उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्तर पर कार्यरत स्वास्थ्य कर्मी एवं आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों, आशा व एएनएम घर घर जाकर दिमागी बुखार रोगियों को चिन्हित करना एवं उनके तेज बुखार होने पर नजदीकी सीएचसी एवं पीएचसी में भेजने के कार्य करेंगे। उन्होंने पंचायती राज विभाग, कृषि विभाग, नगर विकास विभाग, पशुपालन विभाग आदि विभागों के कार्यों की समीक्षा की एवं शत प्रतिशत कार्य माइक्रोप्लान के अनुसार करना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने पंचायती राज अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि झाड़ियों की कटाई व छटाई, नालियों की साफ सफाई व ठहरे हुए पानी के निकास की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे, साथ ही उथले हेडपंपों को चिन्हित करते हुए आवश्यक कार्रवाई करें। उन्होंने कृषि अधिकारी को निर्देशित किया कि चूहा अथवा छछूंदर से होने वाली बीमारियों से आमजन व किसानों को जागरूक करें। उन्होंने बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि अध्यापकों के साथ बैठक कर उन्हें निर्देशित करें कि स्कूलों में छात्र-छात्राओं को संचारी रोग के बारे में जागरूक करें, छात्रों को वेक्टरवॉर्न डिजीजों से बचाव की जानकारी दें। नगर विकास विभाग नालियों की सफाई के साथ एंटी लार्वा का छिड़काव शहर क्षेत्र में फॉगिंग नियमित रूप से करने के निर्देश दिए। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता न बरती जाए।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी भीमजी उपाध्याय, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ नरेंद्र देव शर्मा, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक मेडिकल प्रशांत निरंजन, बेसिक शिक्षा अधिकारी चंद्र प्रकाश, जिला कृषि अधिकारी गौरव यादव आदि सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।