पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर पीड़ित ने लगाई न्याय की गुहारl

पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर पीड़ित ने लगाई न्याय की गुहारl

थाना इंचार्ज गोहन पर लगाए हिटलर शाही दिखाने व बदसलूकी करने के आरोपl

उरई (जालौन)-गोहन थाना इंचार्ज रानी गुप्ता ने जब से गोहन थाना का पदभार ग्रहण किया है! तब से वह हिटलर साही कार्यशैली अपनाए हुए है! जनता में थाना इंचार्ज के खिलाफ़ आक्रोश देखा जा रहा है! उनकी कार्यशैली से क्षेत्र की जनता परेशान है! फरियादी थाना में शिक़ायत दर्ज कराने जाते है तो थाना प्रभारी शिकायत दर्ज नही करती है। प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम राजपुरा निवासी ज्ञान सिंह ने जालौन पुलिस अधीक्षक इराज राजा को शिकायती पत्र देते हुए बताया कि वह अपने गांव राजपुरा में बिल्डिंग मैटेरियल की दुकान किए हुए है! जिसका उधारी का पैसा रवींद्र, अरबिंद्र सेंगर निवासी कंचनपुर से मागने गया तो वह मेरे पुत्र बॉबी से गाली गलौज करने लगे जिसका मेरे पुत्र ने विरोध किया उन लोगो ने बॉबी के साथ लाठी डंडों से मारपीट कर दी! उसको गम्भीर चोट आई जिसकी शिक़ायत गोहन थाना में करने गए तो थाना प्रभारी रानी गुप्ता ने शिकायती पत्र लेने से मना कर दिया और कहा लड़ाई झगड़ा तो आम बात है आपस में निपटा लो! जब पीड़ित ने कहा कि आप हमारी प्राथमिकी दर्ज करके मेडिकल परीक्षण करा दे तो वह भड़क गई और मेरे साथ ही गाली गलौज करने लगी और अपने हमराहीयो से कहा कि इनको धक्का देकर थाने से बाहर निकालो और उन लोगो ने धक्का देकर बाहर निकाल दिया।
और कहा यदि दुबारा से थाना शिकायत दर्ज कराने आए तो तुम्हारे खिलाफ उल्टा मुकदमा दर्ज कर तुम सब लोगो को जेल भेज देंगे! थाना में फरियाद न सुनी जाने पर पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक से न्याय की गुहार लगाई है! थाना अध्यक्ष की कार्यशैली के खिलाफ लोगों में आक्रोश दिखा और उन्होंने मुर्दाबाद व तानाशाही नही चलेगी के नारे लगाकर कार्यवाही की मांग की!