अब मेडिकल कालेज में मरीजों को मिलेगी डिजिटल एक्स रे की सुविधा

अब मेडिकल कालेज में मरीजों को मिलेगी डिजिटल एक्स रे की सुविधा

उरई (जालौन) जनपदवासियों को अब सिर्फ पाँच मिनट में अपनी एक्सरा रिपोर्ट मिल सकेगी । मेडिकल कालेज में मंगलवार को सदर विधायक गौरी शंकर वर्मा ने नव स्थापित एक हजार एमए फुल डीआर डिजिटल एक्सरे मशीन का फीता काटकर शुभारम्भ किया । इस तरह राजकीय मेडिकल कॉलेज को नई डिजिटल एक्स-रे मशीन मिल गई है । इसकी कीमत एक करोड़ 8 लाख रुपये है। नई मशीन से कम समय में बेहतर एक्स-रे हो सकेंगे।

अभी तक मरीजों को एक्स रे के लिए प्राइवेट अस्पतालों में जाना पड़ता था। मेडिकल कॉलेज में मरीजों की भीड़ अधिक होने से मात्र एक डिजिटल एक्स-रे मशीन से सभी एक्स-रे नहीं हो पाते। इसके चलते मरीजों का सादा एक्स-रे भी किया जाता है। इस समस्या से छुटकारा दिलाने के लिए उत्तर प्रदेश मेडिकल सप्लाई कारपोरेशन ने मेडिकल कॉलेज को एक डिजिटल एक्स-रे मशीन उपलब्ध कराई। कमरे में बिजली का थ्री फेज कनेक्शन भी करा दिया गया। प्राचार्य डॉ.आरके मौर्या ने बताया कि नई मशीन मिलने से मरीजों के उच्च गुणवत्ता के एक्स-रे होंगे, साथ ही रोगियों को अधिक इंतजार भी नहीं करना पड़ेगा। 200 तक प्रतिदिन एक्स-रे किए जाते है। राजकीय मेडिकल कॉलेज के एक्स-रे विभाग में 150 से 200 एक्स-रे प्रतिदिन किए जाते हैं। सादे एक्स-रे में अधिक समय लगता है।

माना जा रहा है कि 1000 एम ए फुल डीआर की डिजिटल मशीन लगने से सादे एक्स-रे कम किए जाएंगे। पहला डिजिटल एक्सरे मरीज राम बाबू निवासी खर्रा जालौन का किया गया। इस मौके पर प्राचार्य डॉ आरके मौर्य, सीएमएस डॉ प्रशांत निरंजन, डॉ आरएन कुशवाहा, डॉ शैलेन्द्र प्रताप सिंह, डॉ जितेंद्र मिश्रा, डॉ प्रग्नेश कुमार,डॉ शैलेश वर्मा, डॉ चरक सांगवान,डिजिटल एक्सरे टैकनीशियन अनुरुद्ध कुमार, अनुराग सिंह,शरद यादव, रामू गुप्ता, दीपक पटेल सभासद, अनुज नाग मौजूद रहे।