वार्षिक निरीक्षण जनपद जालौन पुलिस लाइन, पुलिस कार्यालय, चुनाव समीक्षा बैठक में दिये गए आवश्यक दिशा निर्देश

वार्षिक निरीक्षण जनपद जालौन पुलिस लाइन, पुलिस कार्यालय, चुनाव समीक्षा बैठक में दिये गए आवश्यक दिशा निर्देश

उरई(जालौन)।पुलिस उपमहानिरीक्षक, झाँसी परिक्षेत्र, झाँसी श्री कलानिधि नैथानी महोदय द्वारा आज दिनांक 21 मार्च 2024 को जनपद जालौन के वृहद निरीक्षण के क्रम में पुलिस लाइन एवं पुलिस कार्यालय की समस्त शाखाओं का वार्षिक निरीक्षण किया गया।
इसके उपरान्त आगामी त्यौहार, लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 की तैयारियों की समीक्षा हेतु जनपद के समस्त राजपत्रित अधिकारियों, थाना प्रभारियों के साथ चुनाव समीक्षा बैठक कर महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिये गए।बेहतर कार्यदक्षता एवं अनुशासन में 18 पुलिसकर्मी पुरस्कृत हुए।
परेड ग्राउण्ड पर ई0ओ0डी0 की सांकेतिक कमाण्डस, बलवा ड्रिल का अभ्यास कराया जाए।चुनाव समीक्षा बैठक कर आदर्श आचार सहिंता को सर्वोपरि रखते हुये जारी गाइड लाइन्स का करायें शत प्रतिशत अनुपालन”*
*‘‘ईवीएम सुरक्षा में विशेष रूप से प्रशिक्षित कर्मी करें तैनात”*
*‘‘चुनाव प्रभावित करने वाली सामग्री पर लगाये पूर्ण अंकुश”*
उरई(जालौन)।पुलिस लाइन के निरीक्षण में डीआईजी झाँसी द्वारा पुलिस लाइन, जालौन का वृहद वार्षिक निरीक्षण किया गया। परेड का निरीक्षण, पुलिस लाइन्स का भ्रमण एवं निरीक्षण, यू0पी0-112, नगर नियन्त्रण कक्ष, बैरक/शाखाओं का भ्रमण कर बेहतर साफ-सफाई हेतु निर्देश गए।
डीआईजी झाँसी द्वारा सर्वप्रथम पुलिस लाइन के परेड ग्राउण्ड में परेड की सलामी ली गई तथा परेड का निरीक्षण किया गया। परेड में उपस्थित पुलिस कर्मियों एवं यू0पी0-112 से दंगा नियन्त्रण उपकरणों के साथ बलवा ड्रिल करवाई गई जिसमें एण्टी रायॅट गन, टियर स्मोक गन, प्लास्टिक पैलेट्स, रबर बुलैट, आदि से अभ्यास कराया गया। साथ ही ई0ओ0डी0 कमाण्डस एक्सरसाइज की ड्रिल करवायी गयी।
क्वार्टर गार्द को चेक कर तैनात पुलिस कर्मियों से उनके कर्तव्यों तथा आपातकालीन कार्यवाहियों के बारे में जानकारी ली गई एवं गार्द कमाण्डर से आपातकालीन नम्बरों के बारे पूछकर गार्द कमाण्डर को सभी आपातकालीन नम्बरों, स्थानीय थाना प्रभारियों आदि सभी के नम्बरों को सूची में अपडेट करने हेतु निर्देशित किया गया।
आगामी चुनावों के दृष्टिगत डीआईजी झाँसी द्वारा जनपद जालौन की सभी तहसील गार्द की सुरक्षा हेतु स्वस्थ पुलिस कर्मियों को विशेष प्रशिक्षण दिया जाने व समय-समय पर डियूटी के कर्तव्यों के बारे में राजपत्रित अधिकारियों द्वारा ब्रीफ किये जाने के निर्देश दिये गये।
डीआईजी झाँसी द्वारा परिवहन शाखा, जीपी स्टोर, आदर्श बैरिक, पुलिस कैंटीन, श्वान दल, मैस, आदेश कक्ष, शस्त्रागार, परिवहन शाखा, पुलिस जिम आदि का निरीक्षण किया गया तथा जो भी कमियाँ पाई गई उन्हें तत्काल दूर करने हेतु सम्बन्धित को आदेशित किया गया।
परिवहन शाखा के निरीक्षण के दौरान उपलब्ध वाहनों का रखरखाव, दक्षता आदि को चेक किया गया। आगामी त्यौहारों एवं लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 के दृष्टिगत वाहनों के आरटी सेट तथा अन्य तकनीकी उपकरणों की मरम्मत तथा अपडेट रखने हेतु निर्देशित किया गया।
जनपदीय कण्ट्रोल रूम, रेडियो शाखा, यू0पी0-112 की शाखाओं का निरीक्षण कर आपस में समन्वय स्थापित करने तथा घटनाओं एवं आकस्मिक स्थिति पर तत्काल सूचनाओं पर रिस्पांस देते हुए सम्बन्धित थाना प्रभारी को भी अवगत कराने के निर्देश दिये गये है।
पुलिस मैस में भोजन का मेन्यू चेक कर पुलिसकर्मियों को उच्च गुणवत्तायुक्त एवं पौष्टिक भोजन देने हेतु संबंधित को निर्देशित किया गया।
पुलिस कैन्टीन में उपलब्ध सामग्री, लगे सीसीटीवी कैमरे, साफ-सफाई आदि का निरीक्षण कर क्षेत्राधिकारी लाइन को जनपद के समस्त थानों को कैन्टीन पर उपलब्ध सामग्री के बारे में पूर्व में बनाये गये वाट्सएप ग्रुप में सूची प्रेषित करने हेतु निर्देशित किया। ताकि सब्सिडी कैन्टीन का लाभ अधिक से अधिक पुलिसकर्मी उठायें।
पुलिस पेंशनरों के साथ संवाद- डीआईजी झाँसी पुलिस पेंशनरों के साथ गोष्ठी के दौरान आये हुये पेंशनरों की समस्याओं को सुना गया साथ ही पेंशनरों के चिक्तिसा एवं पेंशन से सम्बन्धित वित्तीय समस्याओं के शीघ्र निस्तारण हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया गया। पुलिस पेंशनरों की प्रत्येक माह थाना स्तर पर गोष्ठी कर समस्याओं के निस्तारण के निर्देश दिये गये। पुलिस कार्यालय निरीक्षण में पुलिस कार्यालय के वार्षिक निरीक्षण के दौरान आगंतुक कक्ष, महिला हेल्प डेस्क, पत्र व्यवहार शाखा, वाचक कार्यालय, शिकायत प्रकोष्ठ, पासपोर्ट सेल, अपराध शाखा, मांनिटरिंग सेल, आंकिक शाखा आदि का निरीक्षण किया गया। समस्त शाखा प्रभारियों को अच्छा कार्य करने, पुलिस कर्मियों के प्रार्थना पत्रों का समयबद्व निस्तारण करने, सहयोगियों के साथ मधुर व्यवहार एवं कार्यस्थल पर अनुकूल वातावरण बनाये रखने हेतु निर्देशित किया गया।
पुलिस कार्यालय का निरीक्षण कर कार्यालय के प्रत्येक कक्ष में कक्ष संख्या/शाखा का नाम अंकित करने तथा कार्यालय के मुख्य द्वार पर उसकी दिशा-निर्देशिका लगवायी जाये ताकि आंगतुकों को किसी परेशानी का सामना न करना पड़े। आगंतुक कक्ष में जनपदीय आपातकालीन नम्बरों की सूची लगवानें के निर्देश दिए गए।
प्रधान लिपिक शाखा के निरीक्षण के दौरान पुलिस कर्मियों के सेवा अभिलेखों, पत्रावलियों, रजिस्टरों के रखरखाव एवं प्रविष्टियों की समीक्षा की गयी। सभी अभिलेखों को अद्यावधिक रखने के निर्देश दिये गयें। पेंशन एवं भवन के प्रकरणों में सम्बन्धित लिपिक को समय से प्रस्ताव पुलिस मुख्यालय प्रेषित किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।
वाचक कार्यालय के निरीक्षण के दौरान अपराध रजिस्टरों को चेक किया गया। लम्बित विवेचनाओं के गुणवत्तापूर्ण एवं समयबद्व निस्तारण हेतु सम्बन्धित को पत्राचार करने के निर्देश दिये गये। अपराध शाखा में प्राप्त सम्मनों का समय से तामीला कराने के निर्देश दिये गये।
आंकिक शाखा के निरीक्षण के दौरान विभिन्न मदों के अभिलेखों को चेक किया गया आंकिक लिपिक को निष्पक्ष रूप से कार्य करने एवं पुलिस कर्मियों के वेतन, जी0पीएफ0, चिकित्सा प्रतिपूर्ति, सम्बन्धी शिकायतों के समयबद्ध निस्तारण के निर्देश दिये गये। इसके अतिरिक्त पुलिस कर्मियों के कल्याणार्थ शासन द्वारा प्रदत्त विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ दिया जाये।
इसके उपरान्त डीआईजी झाँसी द्वारा पुलिस कार्यालय परिसर में बने चुनाव कार्यालय का निरीक्षण किया गया इस दौरान चुनाव कार्यालय की पत्रावलियों की समीक्षा की गयी। चुनाव से सम्बन्धित उच्चाधिकारियों को प्रेषित की जाने वाली सूचनाऐं सटीक एवं शुचितापूर्ण हों साथ ही सूचनाओं को समयबद्ध प्रेषित किये जाने के निर्देश दिये गये।
डीआईजी झाँसी द्वारा पुलिस लाइन एवं पुलिस कार्यालय के निरीक्षण के उपरान्त बेहतर टर्नआउट, शस्त्र हैण्डलिंग, ड्रोन संचालन, भोजनालय एवं IGRS कार्यालय सहित कुल 18 पुलिस कर्मियों का उत्साहवर्धन हेतु पुरस्कृत किया गया ।
सैनिक सम्मेलन में डीआईजी महोदय द्वारा सैनिक सम्मेलन में उपस्थित पुलिस कर्मियों से वार्ता कर उनकी समस्याओं को सुना गया तथा सम्बन्धित का निर्देशित किया गया कि पुलिस कर्मियों के प्रार्थना पत्रों का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण किया जाये साथ ही फील्ड में डियूटी करने वाले पुलिस कर्मियों को किसी प्रकार की समस्या न हो।
चुनाव समीक्षा बैठक में डीआईजी झाँसी द्वारा जनपद जालौन के सभी राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों के साथ आगामी लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 हेतु चुनाव आयोग द्वारा जारी की गई गाइड लाइन के अक्षरशः अनुपालन हेतु सभी क्षेत्राधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को विस्तृत निर्देश दिये गये है।
जनपद में आदर्श आचार संहिता के शत प्रतिशत अनुपालन कराये जाने के स्पष्ट निर्देश दिये गये है। आदर्श आचार संहिता का उल्लघंन करने वाले अराजक तत्वों की गतिविधियों को किसी भी स्थिति में बर्दाशत नही किया जाये। ऐसे लोगों को चिन्हित कर उनके विरूद्ध कठोरतम दण्डात्मक कार्यवाही करने के निर्देश दिये गए है।
चुनाव प्रक्रिया में बाधा उत्पन्न करने वालें संदिग्ध व्यक्तियों एवं अराजक तत्वों के विरूद्ध धारा 107/116/110 सीआरपीसी की कार्यवाही तथा भारी मुचलके की धनराशि से पाबंद कराने की अमल में लायी जाये तथा चुनाव प्रभावित करने वाले संभावित व्यक्तियों को चिन्हित कर चेतावनी नोटिस जारी करने एवं सतर्क दृष्टि बनाये रखने के निर्देश दिये गये।
जनपद के सभी शस्त्र लाइसेंस धारको का जिलाधिकारी कार्यालय के शस्त्र लाइसेन्स रजिस्टर से मिलान कराकर सत्यापन कराकर नियमानुसार लाइसेंस धारकों के शस्त्र जमा कराने एवं अवैध शस्त्र निमार्ण की फैक्ट्रियों को चिन्हित कर सम्बन्धित व्यक्तियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये गये है।
जनपद के संवेदशनील एवं मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में भारी पुलिस बल के साथ निरन्तर पैदल गस्त की जाये। गस्त के दौरान वाहनों के फ्लैशर लाइटों एवं सायरनों का प्रयोग कर आम जनमानस में पुलिस की उपस्थिति एवं सुरक्षित/भयमुक्त मतदान हेतु विश्वास पर्ची निर्गत कर लोगों में सुरक्षा की भावना जाग्रत किये जाने के निर्देश दिये गये। अन्तर्राज्यीय एवं अन्तर्जनपदीय बॉर्डरों पर नाका/बैरियर लगाकर निरन्तर सघन चेकिंग अभियान चलाया जाये साथ ही अभिसूचना तंत्र/मुखबिर तंत्र व आबकारी विभाग से समन्वय स्थापित करते हुये अवैध शराब, शस्त्र, नकदी एवं चुनाव प्रभावित करने वाली सभी प्रकार की सामाग्री पर पूर्णता अंकुश लगाये जाने हेतु नियमानुसार आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जाये।
जिला बदर अपराधियों का भौतिक सत्यापन कर यह सुनिश्चित किया जाये की ऐसे अपराधी जिले की सीमा के अन्दर उपस्थित न हो, पाये जाने पर गिरफ्तार कर आवश्यक कार्यवाही अमल में लायी जाये।
सोशल मीडिया पर राउण्ड द क्लॉक सर्तक दृष्टि बनाये रखे ताकि किसी भी प्रकार की भ्रामक खबरों का प्रचार प्रसार करने वालों के विरूद्ध तत्काल कार्यवाही करते हुये खबर का खण्डन भी किया जा सके। अर्द्धसैनिक बलों के रूकने के स्थानों की समीक्षा कर मूलभूत आवश्यकताओं को शत प्रतिशत पूर्ण कर लिया जाये। जनपद के संवेदनशील, मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में पुलिस एवं सीएपीएफ द्वारा संयुक्त रूप से एरिया डोमिनेशन किया जाये तथा आमजन से संवाद स्थापित कर सुरक्षित मतदान का भरोसा दिलाया जाये।