• पिछड़े व दिव्यांगजनों को सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाने वाला बजट
  • अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति योजना हेतु 2475 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित
  • अन्य पिछड़ा वर्ग के निर्धन व्यक्तियों की पुत्रियों की शादी अनुदान योजना हेतु 200 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित
  • पिछड़ा वर्ग के बेरोजगार युवाओं को कम्प्यूटर प्रशिक्षण हेतु 35 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित
  • अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं के छात्रावास निर्माण हेतु लगभग 22 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित
  • दिव्यांग पेंशन योजना हेतु 1170 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित
  • कुष्ठावस्था पेंशन योजना हेतु 42 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित
  • कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण अनुदान योजना के अन्तर्गत लगभग 49,000 दिव्यांगजनों को लाभान्वित किये जाने का लक्ष्य – मंत्री नरेन्द्र कश्यप

लखनऊ:- प्रदेश के दिव्यांगजन सशक्तीकरण एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) नरेन्द्र कश्यप ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में 7 लाख 36 हजार 437 करोड़ 71 लाख रूपये के उत्तर प्रदेश बजट में सभी वर्गों का ध्यान रखा गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की अर्थव्यवस्था को 1 ट्रिलियन डालर की ओर ले जाने में मील का पत्थर साबित होगा। योगी सरकार द्वारा राम राज्य की दिशा में किये जा रहे प्रयास भी इस बजट के माध्यम से सफल होंगे। उन्होंने कहा कि इस बजट में युवाओं से लेकर बेरोजगारों, किसानों से लेकर गरीब और महिलाओं से लेकर सरकारी तंत्र को मजबूत बनाने पर जोर दिया गया है। उन्होंने बेहतरीन बजट के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, विधानसभा अध्यक्ष और वित्त मंत्री से लेकर पूरे सदन को धन्यवाद दिया है।

मंत्री नरेन्द्र कश्यप ने कहा कि बजट में अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति योजना हेतु 2475 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गयी है। अन्य पिछड़ा वर्ग के निर्धन व्यक्तियों की पुत्रियों की शादी अनुदान योजना हेतु 200 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गयी है। पिछड़ा वर्ग के बेरोजगार युवाओं को कम्प्यूटर प्रशिक्षण हेतु 35 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गयी है। अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं के छात्रावास निर्माण हेतु लगभग 22 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गयी है। इसी तरह दिव्यांग पेंशन योजना हेतु 1170 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गयी है। कुष्ठावस्था पेंशन योजना हेतु 42 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गयी है। कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण अनुदान योजना के अन्तर्गत लगभग 49,000 दिव्यांगजनों को लाभान्वित किये जाने का लक्ष्य रखा गया है।

मंत्री नरेन्द्र कश्यप ने कहा कि जिस प्रकार से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार सबका साथ और सबका विश्वास कायम करने का काम कर रही है, ऐसा ही काम आने वाले दिनों में और मजबूती के साथ होगा। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में जिस तेजी के साथ नए एक्सप्रेस-वे, एग्रीकल्चर में विश्वस्तरीय तकनीक और बेरोजगारी दूर करने के प्रयास किय जा रहे हैं इसका लाभ प्रदेश की करोड़ों जनता को मिलेगा। जिस प्रकार से बीते कुछ सालों में लखनऊ और आसपास के प्रमुख शहरों में जी-20 जैसे प्रमुख आयोजन किए गए हैं उसे न सिर्फ प्रदेश की अर्थव्यवस्था को मजबूती मिली है बल्कि रोजगार के नए अवसर भी सबके सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि बजट के जरिए प्रदेश सरकार ने पूरब से लेकर पश्चिम और पश्चिम से लेकर मध्य उत्तर प्रदेश को कुछ ना कुछ देने का काम किया है। वहीं किसानों, युवाओ, महिलाएं, गरीबों के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं पहले की तरह यथावत रखी गई है।