रगौली गांव के रामचन्द्र तिवारी वास्तव में वर्तमान समय में गांव की राजनीति के भीष्म पितामह है।

चित्रकूट राजापुर- ग्राम सभा रगौली से दो बार ग्राम प्रधान रहे रामचंद्र तिवारी के जैसा वर्तमान में राजनीतिक व्यक्ति गांव में कोई भी नही है क्योकि रगौली ग्राम सभा के कुछ घरों में इस बार उनका पोस्टर तक नही लगा और उन्होनें सबसे अधिक मत हासिल किया हालांकि इस तीसरी बार ग्राम प्रधान पद हासिल करने से मात्र 35 कदम दूर रह गए।

इस शख्स से युवा पीढ़ी को राजनीतिक मंत्र सीखना चाहिए।

चुनाव में हार जीत तो होती रहती हैं लेकिन आपने इतनीं अच्छी लड़ाई लड़ी की लोगों के दिल मे जगह सिर्फ आपकी ही हैं आपको हराने के लिए पूरी रगौली को एक होना पड़ा जबकि आपने सिर्फ अकेले लड़ाई लड़ी और हमेशा लोगो के सुख दुःख को अपना समझा और लोगों को न्याय दिलाने के लिए शासन प्रशासन तक से लड़ाई लड़ी। गांव के युवा पीढ़ी को वास्तव में आपके जैसे भीष्म पितामह की जरूरत है और नई युवा पीढ़ी को राजनीति में आपका ही मार्गदर्शन लेना चाहिए।