मध्य प्रदेश राज्य में निरंतर लाड़ली लक्ष्मी बहिना योजना के अंतर्गत हो रहा विकास

मध्य प्रदेश राज्य में निरंतर लाड़ली लक्ष्मी बहिना योजना के अंतर्गत हो रहा विकास

मध्य प्रदेश राज्य में भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं में महिलाओं के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही है परंतु उसमें सबसे ज्यादा प्रभावशाली योजना के रूप में मध्य प्रदेश राज्य की सरकार के द्वारा जो चलाई जाने वाली योजना लाड़ली लक्ष्मी योजना के रूप में सफल होती प्रतीत हो रही है।
इस योजना के अंतर्गत अत्यंत गरीब महिलाएं जो की इनकम टैक्स नहीं दे पा रही है और जिनके पास आय का साधन भी नहीं है, उनके लिए सरकार ने समय-समय पर कई योजनाएं बनाई और उन्हें क्रियान्वित भी किया । उन योजनाओं में से एक लाडली लक्ष्मी बहन योजना भी है जिसके अंतर्गत सभी बहिनों जो की शादीशुदा है और कमाने में सक्षम नहीं है इस प्रकार उनके अकाउंट में हजार रुपए शुरुआती दौर में माननीय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा एक डिजिटल किलिक से सभी के बैंक खाते में धनराशि पहुंचाई गई साथ ही इस कार्य को जमीनी स्तर से करने में सभी का सफल योगदान भी रहा । सरकार के सभी कर्मचारी विभाग वर्ग जिनको भी यह कार्य दिया गया था उन सभी ने महिलाओं के प्रोफाइल को चेक कर सभी प्रकार की जानकारी जन जन तक संपर्क करके पहुंचाई गई यह स्वर्णिम युग की तरह सफल अभियान रहा ।
इस प्रकार से जिन महिलाओं के खाते भी नहीं थे उनके खाते भी खुलवाए गए और जिन महिलाओं ने मोदी जी के कहने पर पहले ₹1 में खाता खोला था उन्हीं खातों में माननीय शिवराज सिंह चौहान जी ने यह योजना चालू कर सभी महिलाओं के लिए कल्याण कारी कार्य किया है।
अभी इस योजना में निरंतर प्रगति हो रही है और महिलाओं के लिए नई-नई स्कीम भी मुहैया कराई जा रही है जैसे कि रक्षाबंधन पर ढाई सौ रुपए अतिरिक्त खातों में आए जो कि शिवराज सिंह चौहान जी का ही फैसला था इसके साथ ही 450 रुपए में गैस और यह यह मुख्यमंत्री जी शिवराज सिंह चौहान जी का सपना सिर्फ चुनाव से पहले की ही प्रक्रिया नहीं है उन्होंने हमेशा ही मध्य प्रदेश की प्रगति के बारे में सोचते हुए यह कदम उठाया है। बूंद बूंद से सागर भरता है इसी प्रकार मध्य प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी का अपने कार्यों में लगी हुई है।
इसके साथ ही अब बहुत ही बड़ी घोषणा भी मध्य प्रदेश सरकार की ओर से महिलाओं के लिए की गई है जो की लाडली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत ही है। अब लाडली लक्ष्मी बहन को खुले शब्दों में कहा गया है कि माननीय शिवराज सिंह चौहान जी इस धनराशि को 3000 तक लेकर जाना चाहते हैं इसके साथ ही गरीब बहनों को अब आवासीय सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी ।
इसी के साथ अतिक्रमण से छुड़ाई जाने वाली जमीन को वे महिलाओं के लिए आवास भी बना कर देंगे । पीएम आवास से छूट लोगों को सीएम आवास में शामिल किया जाएगा। मध्य प्रदेश सरकार इस कार्य में पूरी तरह जुट चुकी है ताकि इस योजना का लाभ मध्यप्रदेश सरकार राज्य के रहने वाली प्रत्येक लाडली लक्ष्मी बहनों तक इसकी जानकारी पहुंच सके।
प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के आवास प्लस एप पोर्टल पर पंजीकृत हो, जो भी परिवार भारत में सरकार के मिस पोर्टल के स्वत रिजेक्ट हुए हैं, पोर्टल पर दर्ज होने से छूटे हैं , जो परिवार जनगणना 2011 एवं आवास प्लस की सूची में शामिल नहीं हो पाए हैं तथा उन्हें केंद्र या राज्य की किसी भी आवास योजना का लाभ नहीं मिला है जिनके पास पक्की छत वाला मकान ना हो और कच्चा मकान दो या दो से अधिक कमरे वाला ना हो मासिक आय 12000 से अधिक ना हो जो चोपहिया ( चार पहिया )वाहन ना हो परिवार में कोई शासकीय सेवा में आयकर दाता ना हो सिंचित भूमि नहीं हो असंचित कृषि भूमि 5 एकड़ से अधिक ना हो । इसी प्रकार के प्रावधान को लेकर आवेदन कर सकते हैं आवेदन के लिए फार्म के साथ आधार नंबर जॉब कार्ड लाडली लक्ष्मी बहन पंजीयन क्रमांक हस्ताक्षर से प्रमाणित आवश्यक है।
इस कार्य में मोदी जी का पूर्ण रूप से सहयोग व समर्थन मिल चुका है जिसके अंतर्गत शिवराज मामा की तरफ से अपनी बहनों का ख्याल ख्याल रखने का घोषणा की गई है जिनके पैदा होने से 21 वर्ष तक की सुरक्षा की जिम्मेदारी खुद लेंगे शिवराज मामा। पढ़ाई लिखाई खाना पीना वी शादी की भी जिम्मेदारी है शामिल।
इसी के अंतर्गत यह एक बहुत बड़ा क्रांतिकारी कदम है जो कि अभी संसद में भी महिलाओं को 33% आरक्षण देकर मोदी जी ने भी महिलाओं के लिए एक कदम और बढ़ाया है ।

मैं आशा करती हूं मध्य प्रदेश सरकार इसी प्रकार सभी के हित में लगातार कार्य करती रहेगी क्योंकि सरकार स्वर्णिम काल चाहती है और लगातार अच्छे कार्यों से ही प्रगति संभव है।

©®आशी प्रतिभा ( स्वतंत्र लेखिका)
मध्य प्रदेश, ग्वालियर
भारत